माटी रतन सम्मान से नवाजे जायेंगे सुधीर विद्यार्थी, योगेश प्रवीन व नसीर अहमद

2

अशफाक के शहादत दिवस पर क्रांतिकारियों व शहीदों की लगेगी प्रदर्शनी : सूर्यकांत

फैजाबाद। पूर्वांचल का प्रख्यात माटी रतन सम्मान क्रांतिकारी लेखक सुधीर विद्यार्थी, योगेश प्रवीन तथा मुस्लिम क्रांतिकारी लेखन में दक्ष हैदराबाद निवासी सै नसीर अहमद को दिया जाएगा। सम्मान चयन समिति ने 2018 के लिए यह चयन किया है। सम्मान 19दिसम्बर को अशफ़ाक़ उल्ला खां मेमोरियल शहीद शोध संस्थान द्वारा मंडल कारागार स्थित शहीद कक्ष में प्रदान किया जाएगा। संस्थान के प्रबंध निदेशक सूर्य कांत पाण्डेय ने सिविल लाइन स्थित एक होटल में पत्रकार वार्ता में यह घोषणा किया। उन्होंने बताया कि 19 दिसम्बर के शहादत दिवस समारोह में 1857 से 1947 तक के मुस्लिम क्रांतिकारियों, शहीदों की भव्य प्रदर्शनी भी लगेगी। समारोह में यतीम खाना, गुरुकुल, मूक बधिर विद्यालय के एक एक गरीब छात्र को पांच, पांच हजार की शांति सिंह स्मृति छात्र वृत्ति भी दी जाएगी। जिनके नाम भी चयनित किए गए हैं। चयनित छात्र में प्रवीण, शमशेर अली, अभिनन्दन मिश्रा है।
श्री पाण्डेय ने बताया कि जंग ए आजादी के नायकों के इतिहास और सपनों से नयी पीढ़ी को अवगत कराने के लिए आयोजित होने वाली प्रतियोगी परीक्षा के लिए एम एल एम एल इंटर कालेज के प्राचार्य को केन्द्र व्यवस्थापक बनाया गया है। 16 दिसम्बर को प्रातः काल दस बजे से होने वाली परीक्षा के प्रथम सत्र में गीता पाण्डेय स्मृति निबंध प्रतियोगिता, दूसरे सत्र में डा शैलेश पाण्डेय स्मृति मेधावी छात्र प्रतियोगिता होगी। शहर के माध्यमिक विद्यालयों के अलावा राजबली स्मारक इंटर कालेज के छात्र भी प्रतियोगिता में शामिल किए जाएगे। प्रत्येक विद्यालय से केवल पन्द्रह छात्रों को शामिल किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि देश पर जान देने वाले शहीदों की याद में दिए जाने वाला यह भारत का एकमात्र सम्मान है। उन्होंने बताया कि माटी रतन सम्मान पाने वालों को यश भारती तथा पद्म पुरस्कार मिल चुका है जिसमें अरुणिमा सिन्हा, लेकर उत्साही, डा दूधनाथ सिंह, बिजय बहादुर सिंह, अनवर जलालपुर, मुनव्वर राणा, अदम गोण्डवी आदि प्रमुख है। सम्मान समारोह में नगर, जनपद, प्रदेश और देश के अनेकों प्रमुख हस्तियों को आमंत्रित किया जाएगा। पत्रकार वार्ता में संस्थान के अध्यक्ष सलाम जाफरी, चयन समिति के स्वप्निल श्रीवास्तव, विकास सोनकर, देवेश ध्यानी, अंकित कनौजिया कोषाध्यक्ष अब्दुल रहमान भोले, मुशीर खान राजू आदि मौजूद थे।

इसे भी पढ़े  33 वैकल्पिक स्थानो पर दुर्गा प्रतिमा स्थापना की मांगी अनुमति

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: