The news is by your side.

टीजीटी परीक्षा के सॉल्वर गैंग का खुलासा, महिला सहित 06 गिरफ्तार

-जौनपुर, भदोही, प्रयागराज, अयोध्या के हैं आरोपी, फर्जी कूटरचित आधार कार्ड एवं दर्जनों प्रवेश पत्र बरामद

अयोध्या। एडमिट कार्ड को स्कैन कर फर्जी लोगों को परीक्षा में बैठाकर रुपये ऐंठने वाले सॉल्वर गैंग के 06 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिसमें एक महिला भी शामिल है। सोमवार को पत्रकारवार्ता में एसएसपी शैलेश पांडेय ने खुलासा किया। बताया कि टीजीटी परीक्षा में कूटरचित आधार कार्ड, एडमिट कार्ड को स्कैन कर सॉल्वर गैंग के लोग परीक्षा दिलाते है। 08 अगस्त को पुलिस ने सूचना के आधार पर कमलेश कुमार निवासी ऐहार थाना रूदौली को पकड़ा।

Advertisements

पूछताछ के बाद 09 अगस्त को उसके अन्य 05 साथियों कमल कुमार निवासी बारीगांव थाना बरसठी जनपद जौनपुर, सुनील यादव निवासी रनरपुर थाना सुरयावा जनपद भदोही, भारत भूषण गौतम निवासी भेलखा थाना सरायममरेज जनपद प्रयागराज, अमन केशवानी निवासी हवूसा मोड़ थाना सराय इनायत जनपद प्रयागराज और पुष्पा यादव निवासी पुरे गुलजार रूदौली जनपद अयोध्या को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई है। एसएसपी ने बताया कि 08 अगस्त को आयोजित टीजीटी परीक्षा के दौरान वरूण प्रताप सिंह प्राधानाचार्य एमपीएलएल आदर्श इण्टर कॉलेज धारा रोड ने सूचना दी।

बताया कि उप्र माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा प्रशिक्षित स्नातक परीक्षा 2021 द्वितीय पाली में कमरा नं. 01 में अनुक्रमांक सं 0905012513 पर लवकुश कुमार के स्थान पर कमलेश कुमार फर्जी कूटरचित दस्तावेज से आधार कार्ड में अपना फोटो एडिट कर परीक्षा दे रहा। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। जिसकी विवेचना की जा रही थी। पूछताछ के दौरान कमलेश कुमार ने अन्य साथियों के बाबत जानकारी दी। पुलिस ने सोमवार को गिरोह में शामिल अन्य 05 अभियुक्त को मारवाड़ी धर्मशाला चौक से गिरफ्तार किया। आरोपियों ने पूछताछ में अपना जुर्म स्वीकार किया है। बताया कि अभियुक्त कमलेश कुमार द्वारा लवकुश कुमार की जगह एवं अभियुक्त सुनील कुमार द्वारा परिक्षार्थी ग्रीस कुमार निवासी सोहावल जनपद अयोध्या की जगह पर परीक्षा देने को कुल चार लाख रुपये में तय था । जिसमें से कमलेश कुमार परीक्षा केंद्र में प्रवेश कर परीक्षा देने लगा।अभियुक्त सुनील कुमार प्रवेश करते समय चेकिंग के समय शंका होने पर भाग गया था।

इसे भी पढ़े  इस बार इंडिया गठबंधन की बनने जा रही सरकार : श्यामलाल पाल

अभियुक्तों के कब्जे से फर्जी प्रवेश पत्र एंव आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड व घटना में प्रयुक्त इनोवा कार यूपी 14 बीएफ 8718 व 01 अदद यूपी 70 डीपी 7442 सुपर स्पेलंडर की बरामदगी की गई। एसएसपी ने बताया कि पूछताछ के बाद छानबीन जारी है। सम्भव है कि कुछ औऱ लोग गिरफ्त में आएं। बताया कि गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक सुरेश पाण्डेय थाना कोतवाली नगर, एसएसआई ओमप्रकाश, एसआई यशवन्त द्विवेदी चौकी प्रभारी चौक, सत्य प्रकाश यादव चौकी प्रभारी अलीगढ़ थाना कोतवाली नगर, सुनील कुमार यादव चौकी प्रभारी रिकाबगंज, हेडकांस्टेबल जितेन्द्र बहादुर सरोज आदि अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे।

Advertisements

Comments are closed.