The news is by your side.

मिल्कीपुर : उप निबंधक कार्यालय मार्ग का दुरूस्तीकरण शुरू

-वादकारियों व अधिवक्ताओं को कीचड़ से मिलेगी निजात, एसडीएम ने लिया था संज्ञान

मिल्कीपुर। मिल्कीपुर उप निबंधक कार्यालय पहुंच पाना दुश्वारियों भरा हो गया था। तहसील स्थापना के बाद से तहसील भवन के पीछे सिंचाई विभाग के भवन में चल उप निबंधक कार्यालय को जाने वाले मार्ग पर जलभराव एवं कीचड़ हो जाने के चलते वादकारियों को कार्यालय तक पहुंचने में गंदे पानी और कीचड़ से गुजरना पड़ रहा था। सबसे मजे की बात तो यह है कि तहसील के प्रशासनिक अधिकारियों की नाक के नीचे मुख्य मार्ग पर जलभराव प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही एवं नजरअंदाजी को उजागर कर रहा था।

Advertisements

बताते चलें कि वर्ष 1995 में मिल्कीपुर तहसील मुख्यालय की स्थापना के बाद से तहसील भवन के बगल स्थित सिंचाई विभाग के भवन में उप निबंधक कार्यालय मिल्कीपुर अस्थाई व्यवस्था के तहत संचालित हो रहा है। रजिस्ट्री कार्यालय तक पहुंचने के लिए तहसील प्रवेश द्वार के बगल से एक पक्की सड़क जाती है। उसी सड़क के बगल तहसील के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के आवासीय भवन बने हुए हैं। आलम यह है कि आवासीय भवनों के शौचालय टैंक ओवरफ्लो करके सड़क पर ही बह रहे थे।

यही नहीं आवासीय भवनों से जल निकासी हेतु लगी पाइपलाइन पूरी तरह से टूट कर ध्वस्त हो चुकी है, जिसका परिणाम है कि आवासीय भवनों एवं शौचालय टैंकों का गंदा पानी सड़क पर भर कर बज बजा रहा था। उक्त सड़क से होकर कार्यालय तक पहुंच पाना पैदल की तो बात दूर बाइक और संसाधन से भी कतई संभव नहीं हो पा रहा था। उप निबंधक कार्यालय में काम कर रहे स्टांप विक्रेता और दस्तावेज लेखक सहित तहसील क्षेत्र के वादकारी भी उक्त समस्या से बिल्कुल परेशान थे।आवासीय भवन के परिसर में ही राजकीय नलकूप स्थित है।

इसे भी पढ़े  पगला भारी बिस्फोट : दूसरे दिन 75 वर्षीय शिवपता की भी दूसरी हुई मृत्यु

जिसकी नाली कई जगह टूट गई थी। आवासीय भवनों की पाइप लाइन एवं शौचालय टैंक के पानी के साथ साथ नलकूप का भी पानी सड़क पर एकत्र हो रहा था। उप जिलाधिकारी मिल्कीपुर राजीव रतन सिंह ने मामले को गंभीरता से लिया। इसके बाद संबंधित अधिकारियों द्वारा जलभराव वाले स्थानो पर मिट्टी व गिट्टी डलवाई जा रही है। साफ सफाई भी करवाया जा रहा है। अधिवक्ताओं एवं अधिकारियों ने कहा कि बहुत बड़ी समस्या थी, अब इससे निजात मिल जाएगी। सबने एसडीएम मिल्कीपुर की इस पहल को सराहा है।

 

Advertisements

Comments are closed.