आईजीआरएस में प्राप्त शिकायतों का प्राथमिकता से करें निस्तारण ः डा. अनिल कुमार

डीएम के प्रयास से आईजीआरएस की श्रेणी में हुआ सुधार‚ फैजाबाद जनपद 70 नम्बर से 54 नम्बर पर पहुंचा

फैजाबाद। जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार के विशेष प्रयास से आईजीआरएस की श्रेणी में आपेक्षित सुधार हुआ। प्रदेश में उक्त समीक्षा के दौरान जनपद 70 नम्बर से 54 नम्बर पर पहुंच गया है। जिलाधिकारी ने कहां कि अभी पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों में सुधार की और आवश्यकता है। कभी जनपद आईजीआरएस में 25 से 30 रैंक पर रहा है। आप सभी शिकायतों के गुणवत्तापूर्वक निस्तारण करते रहे तभी जिले की रैंक कम होगी।जिलाधिकारी ने सभी उपस्थित अधिकारियों से कहा कि आप सभी अपने कार्यालय एवं आवास पर लगे लैण्डलाइन टेलीफोन को एक सप्ताह के अन्दर अवश्य चालू करा लें, अपरिहार्य परिस्थितियों को छोड़कर जनता की शिकायतों की सुनवाई 11 बजे तक अवश्य करें। जनसुनवाई के बाद ही फील्ड पर जाए। फील्ड विजिट के पश्चात् रिर्पोट बनाये और उसकी प्रति मुझे भेजे। अपने कार्यालय में साप्ताहिक स्टाफ मीटिंग करें और हर पटल सहायक के कार्यो की समीक्षा करें। उन्होनें कहा कि आप लोगो की असंवेदनशीलता के चलते ग्रामीण क्षेत्र की जनता को अपनी शिकायत के निस्तारण में इधर-उधर भटकना पड़ता है। आप लोग उसका निस्तारण न कर इनके पास चले जाओ उनके पास चले जाओ टरकाते रहते है। यह स्थिति ठीक नही है, संवेदनशील बने। उन्होनें कहा कि जिलाधिकारी के जनता दरबार में 150-200 शिकायतें प्रतिदिन प्राप्त हो रही है जो यह दर्शाती है कि तहसील, ब्लाक व थानो पर जन शिकायतों का निस्तारण ठीक ढंग से नही हो पा रहा है। पटल सहायक कौशल श्रीवास्तव ने बैठक के बीच-बीच जो शिकायतें वापस भेजी जा रही है के सम्बन्ध में गलत आख्या फीडिंग के बारे में सम्बन्धित विभाग के अधिकारी व जिलाधिकारी  को बताया।

इसे भी पढ़े  पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More