in

हमलावरों को बचाने में जुटी थाना पुलिस

गड़ासा के प्रहार से गम्भीर रूप से घायल निर्मला का चल रहा इलाज

अयोध्या। गड़ासा से प्रहार कर निर्मला सहित तीन महिलाओं को घायल करने वाले हमलावरों को खण्डासा थाना पुलिस बचाने में जुटी है जबकि गम्भीर रूप से घायल निर्मला का इलाज जिला चिकित्सालय में बीते 23 दिनों से चल रहा है।
पीड़ित द्वारा खंडासा थाना में आईपीसी की धारा 307, 452, 392, 504 के तहत 16 दिसम्बर को ही दर्ज कराया दिया गया था। प्राथमिकी के अनुसार पीड़ित पक्ष का पट्टीदारों से मकान व भूमि को लेकर रंजिश चल रही है जिसका मुकदमा दीवानी न्यायालय में विचाराधीन है। 16 दिसम्बर को सुबह लगभग 10 बजे विपक्षी वृषभान, हरिभान पुत्रगण रामदत्त, अरूण कुमार पुत्र अश्वनी कुमार मजदूर व मिस्त्री लेकर विवादित भूमि पर खुदाई व सफाई करा रहे थे जब इन्हें रोंका गया तो ये आमादा फौजदारी हो गये और घर में घुसकर निर्मला, ऊषा पत्नी सूर्यभान व मध्यामा पुत्री सूर्यभान पर जानलेवा हमला बोल दिया। गड़ासे से ऊषा के सिर पर प्रहार किया गया जब निर्मला बचाने के लिए दौड़ी तो बृजभान ने कुल्हाड़ी से उसके सर पर जानलेवा प्रहार किया जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गयी। 15 वर्षीय मध्यमा को भी विपक्षीगणां ने पीटा, गम्भीर रूप से घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया । इस सम्बन्ध में प्राथमिक तो खंडासा पुलिस ने दर्ज कर ली परन्तु अभी तक जानलेवा हमला करने वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गयी है जिससे पीड़ित पक्ष भयाक्रांत है।

इसे भी पढ़े  जेठ बनकर युवती से की 50 हजार रूपये की धोखाधड़ी

What do you think?

Written by Next Khabar Team

सुरीली आवाज में कार्तिक मल्होत्रा ने हासिल किया अयोध्या आइडल

सेल टैक्स कमिश्नर के आवास पर हुई चोरी का खुलासा