The news is by your side.

दो दुकानों में हुई चोरी की घटना का पुलिस ने किया खुलासा

-चोरी के माल व चोरी किए जाने में प्रयुक्त औजारों के साथ एक गिरफ्तार

मिल्कीपुर। मिल्कीपुर में पुलिस उपाधीक्षक कार्यलय के समाने स्थित दो दुकानों के शटर का ताल काटकर बेखौफ चोरों द्वारा चोरी की बड़ी वारदात को अंजाम दिए जाने के मामले में इनायत नगर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए घटना के महज 12 घंटे के अंदर ही चोरी की इस बड़ी वारदात का खुलासा कर दिया है।

Advertisements

इस खुलासे के बाद इनायत नगर पुलिस ने राहत की सांस ली है क्योंकि पुलिस की नाक के नीचे हुई चोरी की बड़ी वारदात पुलिस के लिए खुली चुनौती बनी हुई थी। प्रभारी निरीक्षक अरुण प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने एक शातिर चोर को चोरी के माल एवं चोरी किए जाने में प्रयुक्त औजारों के साथ गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने पकड़े गए युवक को चोरी के मुकदमे में जेल भेज दिया है।

बता दे कि क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर कार्यालय के गेट के ठीक सामने स्थित डी के मोबाइल एवं जन सेवा केंद्र तथा शिव ऑनलाइन सर्विस एंड साइबर जोन की दुकान को बीती रात बेखौफ अज्ञात चोरों द्वारा निशाना बनाते हुए दुकान का शटर काटकर अंदर रखे लाखों रुपए कीमती एंड्रॉयड फोन सहित नगदी पार कर दिए गए थे। घटना की जानकारी के बाद दोनों दुकान संचालकों द्वारा मामले में मुकदमा काम किए जाने हेतु तहरीर दी गई थी। जिसके आधार पर पुलिस मुकदमा कायम कर घटना के पर्दाफाश में जुट गई थी।

मुखबिर द्वारा पुलिस को एक सूचना मिली कि एक संदिग्ध युवक नकली का पुरवा के पास खड़ा है और बैग में कुछ इलेक्ट्रिक उपकरण रखा हुआ है, हो सकता है, इसने चोरी की घटना को अंजाम दिया हो। जानकारी मिलते ही वरिष्ठ उपनिरीक्षक ब्रह्म दत्त पाण्डेय, उपनिरीक्षक अक्षय पटेल, अभय सिंह, कांस्टेबल संतोष सिंह, अनुभव सिंह, अभिनव कुशवाहा व गंभीर सिंह के साथ मौके पर पहुंच गए और युवक को पड़कर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने दुकानों में चोरी करने की बात कबूल की।

इसे भी पढ़े  लता मंगेशकर चौक अयोध्या में पारस डेयरी ने खोला पारस मिल्क शॉप 

पकड़ा गए युवक शेष राम यादव पुत्र विदुर राम यादव निवासी धन्जो थाना इनायत नगर अयोध्या ने बताया कि हाइड्रोलिक कटर मशीन व इलेक्ट्रॉनिक गैस कटर से दुकानों का शटर काटकर चोरी करता है। आरोपी के निषादेही पर पुलिस ने चोरी के सभी सामान बरामद कर आरोपी के खिलाफ विधि कार्यवाही करने के बाद न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां से जेल भेज दिया गया है।

 

Advertisements

Comments are closed.