The news is by your side.

अविवि के पाठ्यक्रमों में प्रवेश की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया प्रारम्भ

– पाठ्यक्रमों में प्रवेश की ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह के निर्देश पर परिसर में संचालित सभी पाठ्यक्रमों में प्रवेश की ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 04 जून से प्रारम्भ कर दी गई है। जिसमें स्नातक, परास्नातक, वोकेशनल, पीजी डिप्लोमा एवं सर्टिफिकेट पाठ्यक्रमों में ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई 2021 निर्धारित की गई है।

Advertisements

स्नातक पाठ्यक्रमों के तहत फाइन आर्टस, बी0पी0ई0एस0, बी0 लिब0 आई0एस0सी0, सोशल वर्क, जैनोलॉजी आनर्स एवं बी0एस0सी0 मैथ गु्रप में फिजिक्स, मैथ, कमेस्ट्री, इलेक्ट्रानिक्स, कम्प्यूटर साइंस तथा बी0एस0सी0 बायो गु्रप में माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमेस्ट्री केमेस्ट्री, इन्वायरमेंट साइंस, जूलोजी, बॉट्नी, बायोटेक्नोलॉजी, बी0सी0ए0, बीसीए एवं कामर्स शामिल है। परिसर में परास्नातक पाठ्यक्रमों के तहत अर्थशास्त्र एवं ग्रामीण विकास, इतिहास, संस्कृति एवं पुरातत्व, जनसंचार एवं पत्रकारिता, सोशल वर्क, प्रसार शिक्षा एवं ग्रामीण विकास, टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन, पब्लिक हेल्थ, फाइन आर्ट्स(पेंटिग), योगा थिरेपी, लाइब्रेरी एण्ड इन्फॉमेंशन साइंस, मास्टर ऑफ परफॉमिंग आर्ट्स, गवर्नेंस इन पब्लिक पॉलिसी, हिन्दी, इंग्लिश, सिन्धी, एप्लाइड साइकोलॉजी, जैनोलॉजी, फिलॉसोफी एण्ड रिलीजन, स्ट्रेजिक स्टडीज्, समाज शास्त्र, ड्राविंग एण्ड पेंटिग, इंटरनेशनल रिलेशन, मैथ एण्ड स्टेटिक्स, फिजिक्स (इलेक्ट्रानिक्स), बायोकमेस्ट्री, इन्वायरमेंट साइंस, माइक्रोबायोलॉजी, इलेक्ट्रानिक्स, बायोटेक्नोलॉजी, जियोग्राफी, जियोफिजिक्स, जियोलॉजी, बिजनेस फाइनान्स एण्ड कंट्रोल, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन इन एग्री बिजनेस, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन हॉस्पिटलिटी मैनेजमेंट, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन टूरिज्म मैनेजमेंट एवं एल0एल0एम0 पाठ्यक्रम है। परिसर में संचालित वोकेशनल पाठ्यक्रमों में जनसंचार एवं पत्रकारिता, टूरिज्म एण्ड हॉस्पिटलिटी, फैशन डिजाइन एण्ड गारमेंट टेक्नोलॉजी, बैचलर ऑफ परफॉमिंग आर्ट शामिल है।

पी0जी0 डिप्लोमा के तहत वी0एल0एस0आई0 डिजाइन, फैशन डिजाइनिंग(केवल महिलाओं हेतु), एरोमा टेक्नोलॉजी, योगा एण्ड आप्शनल थिरेपी, वीमेन स्टडीज्, डिजास्टर मैनेजमेंट, डाइटेटिक्स एण्ड न्यूट्रिशन, आर्ट एजूकेशन, अवधी, भोजपुरी तथा डिप्लोमा में जर्मन, फ्रेंच एवं सर्टिफिकेट कोर्स के तहत गर्भ संस्कार, कोरियन लैग्वेज, कोरियन संस्कृति, इण्डो कोरियन सोशल एण्ड कल्चर रिलेशनशिप शामिल हैं। अन्य व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में (विश्वविद्यालय एवं सम्बद्ध महाविद्यालय) में बी0पी0एड0, एम0पी0एड, एम0एड0, एल0एल0बी0(त्रिवर्षीय एवं पंचवर्षीय केवल सम्बद्ध महाविद्यालयों हेतु) है।
यू0पी0सीईटी-2021 के माध्यम से बी0टेक0 इन मेकेनिकल इंजीनियरिंग, बी0टेक0 इन कम्प्यूटर साइंस, बी0टेक0 इन इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी, बी0टेक0 इन इलेक्ट्रानिक्स कम्युनिकेशन, बी0टेक0 इन सिविल इंजीनियरिंग, बी0टेक0 इन इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग तथा एम0टेक0 इन मेकेनिकल इंजीनियरिंग, एम0टेक0 इन कम्प्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, एम0टेक0 इन इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी, एम0टेक0 इन इलेक्ट्रानिक्स एण्ड कम्युनिकेशन, मास्टर ऑफ कम्प्यूटर एप्लीकेशन, मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में प्रवेश दिये जायेंगे। नई शिक्षा नीति के तहत विश्वविद्यालय द्वारा दो सघटक राजकीय महाविद्यालयों में प्रवेश दिए जायेंगे। जिसमें स्नातक विषय के रूप में हिन्दी संस्कृत, इतिहास, प्राचीन इतिहास, भूगोल, समाज शास्त्र राजनीति शास्त्र गृह विज्ञान है। परिसर में डिप्लोमा इन फार्मेसी एवं बैचलर इन फार्मेसी शीघ्र शुरू होने वाला है।

इसे भी पढ़े  सामान्य प्रेक्षक ने मतदान की तैयारियों का लिया जायजा

इसके लिए भी अभ्यर्थी आवेदन कर सकेंगे। प्रवेश परीक्षा-2021 के समन्वयक प्रो0 विनोद श्रीवास्तव ने बताया कि कुलपति के आदेश के अनुपालन में परिसर में संचालित सभी पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अभ्यर्थियों के आवेदन को देखते हुए प्रवेश परीक्षा कराई जायेगी जिसकी सूचना विश्वविद्यालय की अधिकारिक वेबसाइट पर दी जायेगी। सभी पाठ्यक्रमों में अधिकतम 05 सीटें सेवारत सैनिकों/अधिकारियों के लिए आरक्षित रहेगी। आवेदन-पत्र, सूचना, अर्हता एवं दिशा-निर्देश विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है।

 

Advertisements

Comments are closed.