The news is by your side.

अध्ययन से ज्यादा कठिन मार्ग खेल का : प्रो. मनोज दीक्षित

चुनौतियों के कारण मिलती है हमें शक्ति : आर.एस. गुप्ता

अर्न्तविभागीय खेलकूद प्रतियोगिता-2018 के सम्मान में किया गया पुरस्कार वितरण

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के क्रीड़ा विभाग द्वारा स्वामी विवेकानन्द सभागार में अर्न्तविभागीय खेलकूद प्रतियोगिता 2018 के सम्मान में पुरस्कार वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सम्मान समारोह में कार्यक्रम की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने की। मुख्य अतिथि के रूप में आर0 एस0 गुप्ता, नगर आयुक्त अयोध्या और विशिष्ट अतिथि श्रीमती अर्चना शंकर एवं प्रति कुलपति प्रो0 एस0एन0 शुक्ल रहे।
सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि आर0 एस0 गुप्ता ने कहा कि खिलाड़ी को हमेशा नई चुनौतियों के लिए तैयार रहना चाहिये। खिलाड़ियों का जीवन ऐसी स्मृतियों से भरा होता है जो समाज को प्रेरित करती है। उन्होंने कहा कि यदि जीवन में चुनौतियां नहीं है तो आपका जीवन सुगम तो हो सकता है मगर स्मरणीय नहीं हो सकता। चुनौतियों के कारण हमें शक्ति मिलती है। गुप्ता ने कहा कि एक अच्छे खिलाड़ी में निश्चित रूप से एक अच्छे व्यक्तित्व का भाव मिलता है, खिलाड़ी देश की धरोहर होते हैं।
कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रहे विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि अध्ययन से ज्यादा कठिन मार्ग खेल का होता है। खिलाड़ियों को कदम-कदम पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर स्वयं को सिद्ध करना होता है। प्रो0 दीक्षित ने बताया कि खिलाड़ियों को सामाजिक उपेक्षा का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन जब खिलाड़ी प्रतिष्ठित होता है तो राष्ट्र का भी सम्मान बढ़ता है। वर्तमान परिवेश में अमेरिका का सबसे बड़ा रोजगार खेल है उसके लिए वहां की सरकारों के साथ परिवेश भी खिलाड़ियों के साथ जुड़ा होता है। कुलपति ने बताया कि विश्व में बढ़ती खिलाड़ियों की प्रतिभाओं में वर्षां दूर रहा चीन भी इस क्षेत्र में कॉफी आगे आ गया है अब चीन के भी खिलाड़ी विश्व स्तर की प्रतियोगिताओं में कॉफी नाम कमाये है। प्रो0 दीक्षित ने कहा कि भारत में खेल के अवसरों का उचित विकास अभी नहीं हो पाया है जिससे हम विश्व स्तर की आयोजित प्रतियोगिताओं में अपना स्थान बना सके। वर्तमान सरकार के सकरात्मक प्रयास से अब यह उम्मीद बनी है कि अब हमारे यहां के खिलाड़ियों के लिए आवश्यक सुविधायें उपलब्ध करायी जा रही है। विश्वविद्यालय के क्रीडा अध्यक्ष प्रो0 आर0के0 तिवारी ने कहा कि कुलपति जी के सार्थक प्रयत्नों से विश्वविद्यालय के खिलाड़ियों ने प्रदेश एवं राष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन कर विश्वविद्यालय का मान बढ़ाया है।
पुरस्कार एवं सम्मान वितरण समारोह में 31 अक्टूबर, 2018 को राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर एकता दौड़ मे छात्र एवं छात्रा वर्ग, शिक्षक एवं कर्मचारी वर्ग में क्रमशः प्रथम द्वितीय और तृतीय पुरस्कार प्रदान किए गये। अंतर विभागीय खेल प्रतियोगिता में कुलपति ब्रिगेड और कुलसचिव ब्रिगेड के मध्य हुई टेबल टेनिस पुरुष एवं महिला वर्ग में विजेताओं और उप विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए गये। इसी क्रम में कुलपति ब्रिगेड और कुलसचिव ब्रिगेड में कोई अन्य प्रतियोगिताओं में निशानेबाजी बैडमिंटन, टंग ऑफ वार वालीबॉल, क्रिकेट, कबड्डी, हैंडबॉल, योगा, शूटिंग, बॉक्सिंग, चैस, वेटलिफ्टिंग के छात्र एवं छात्रा वर्ग कर्मचारी वर्ग शिक्षक वर्ग कि सभी श्रेणियों में विजेता और उपविजेता को पुरस्कृत किया गया। इसी क्रम में सभी प्रतियोगिता में सभी निर्णय को को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर आवासीय क्रीड़ा प्रभारी डॉ0 मुकेश वर्मा ने बताया कि पुरस्कार एवं सम्मान वितरण समारोह लगभग 400 पदक विजेता और उपविजेता को वितरित किये गए जिसमे 195 स्वर्ण पदक, 195 रजत पदक और एकता दौड़ के विजेता शामिल रहे। संचालन डॉ0 अर्जुन सिंह ने किया। कार्यक्रम की शुरुआत मां सरस्वती पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया। विश्वविद्यालय की छात्राओं द्वारा कुलगीत की प्रस्तुति की गई। इसी क्रम में मुख्य अतिथि और विशिष्ट अतिथि को बैज लगाकर अंगवस्त्रम् और स्मृतिचिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर परीक्षा नियंत्रक उमानाथ, उपकुलसचिव डॉ0 विनय कुमार सिंह, कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह, प्रो0 आर0 एन0 राय, मुख्य नियंता प्रो0 एम0पी0 सिंह, डॉ0 अशोक शुक्ला, प्रो0 चयन कुमार मिश्र, प्रो0 एस0 के0 रायजादा, प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह, प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह, डॉ0 शैलेन्द्र वर्मा, डॉ0 संतोष गौड़, परीक्षा नियंत्रक उमानाथ, डॉ0 नीलम यादव, डॉ0 तुहिना वर्मा, डॉ0 शशिकला सिंह, डॉ विजयेन्दु चतुर्वेदी, डॉ0 नीलम सिंह, ेडॉ0 अलका, डॉ0 सविता, डॉ0 कविता, ई0 समृद्धि सिंह, ई0 कृति श्रीवास्तव, ई स्वेता मिश्रा डॉ राजेश सिंह,डॉ वीरेन्द्र वर्मा,अनूप सिंह, डॉ मनीष सिंह, डॉ अनिल मिश्र डॉ कपिल राणा, डॉ अर्जुन सिंह, डॉ सुरेंद्र मिश्रा,डॉ त्रिलोकी यादव, डॉ अनुराग पांडे, डॉ संघर्ष सिंह डॉ प्रतिभा त्रिपाठी,देवेंद्र वर्मा, ज्योति सिंह,निहारिका श्रीवास्तव, एकता, बलभ्भी, आशीष मिश्र, आशुतोष मिश्रा, ई विनीत सिंह,ई पारितोष त्रिपाठी, ई परिमल तिवारी, ई रमेश मिश्र,ई जैनेंद्र प्रताप,विवेक सिंह,कृतिका निषाद,नीलम,गणेश राय,गिरीश चन्द्र पंत,शिव कुमार सिंह,गणेश श्रीवास्तव, ई0 आर0 के0 सिंह ,विश्वविद्यालय कर्मचारियों के साथ साथ बड़ी संख्या में छात्र एवं छात्रायें उपस्थित रही।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.