in

ग्रामीण क्षेत्र में सक्रिय चोर गैंग के दबोचे गये पांच शातिर

चोरी का मोबाइल फोन, बाइक, दो तमंचा मय दो जिंदा व दो खोखा कारतूस बरामद

अयोध्या। जनपद के ग्रमीण क्षेत्रों में सक्रिय शातिर चोर गैंग के पांच सदस्यों को रौनाही थाना क्षेत्र में पुलिस ने धर दबोचा। पकड़े गये चोरों के पास से चोरी का मोबाइल फोन, लैपटाॅप, बाइक, दो तमंचा मय दो जिंदा व दो खोखा कारतूस बरामद किया गया है। यह जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जोगेन्द्र कुमार ने पुलिस लाइन सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता में दिया। उन्होंने बताया कि यह गैंग जनपद के ग्रामीण थाना क्षेत्रों में सक्रिय था। पकड़े गये चोरों के पास से दो बाइक स्प्लेंडर यूपी 42 आर 6088 व सुपर स्प्लेंडर यूपी 42 एई 1826, 23 विभिन्न कम्पनियों के मोबाइल फोन और एक लैपटाप भी बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि चोर गैंग को पकड़ने के लिए पुलिस दल को जिम्मेदारी सौंपी गयी थी मुखबिर खास की सूचना पर पुलिस को पता चला कि किठावां पुलिया के पास चोरी किये गये सामान के बंटवारे के लिए गैंग मौजूद है। पुलिस दल ने घेराबंदी करके 19 मार्च को रात्रि करीब 8.10 बजे चोर गैंग के वसीम पुत्र कलीम निवासी बजूपुर थाना कोतवाली देहात जनपद सुल्तानपुर, शानू पुत्र लियाकत निवासी बजूपुर जनपद सुल्तानपुर, सत्यम पुत्र किशनपाल सिंह निवासी बहोबरा थाना मवई जनपद अयोध्या, राहुल पुत्र राम सेवक निवासी कसारी थाना मवई जनपद अयोध्या और आशीष पुत्र रोशनलाल निवासी तरसावन का पुरवा मजरा गौरा थाना रौनाही को गिरफ्तार कर लिया। रानौही थाना पुलिस को यह बड़ी सफलता प्राप्त हुई है।
उन्होंने बताया कि पूंछताछ के दौरान पकड़े गये चोरों ने बताया कि उनका गैंग है। एक माह पहले ड्योढ़ी बाजार से रात्रि में बाइक व एचबीएम पब्ल्कि स्कूल कुंर्दुखा खुर्द से मैक्सिमो कार व बाइक चोरी किया था। कार को सुल्तानपुर में अब्दुल गफ्फार कबाड़ी के यहां कटा दिया गया था। बाइक यह लोग चला रहे थे। उन्होंने बताया कि दो माह पहले थाना मवई के सैदपुर क्षेत्र से मोबाइल की दूकान से दीवाल काटकर मोबाइल फोन और लैपटाप चोरी किया था। अभियुक्तों ने यह भी बताया कि चोरी करने के बाद पुलिस की चेकिंग के भय से यह लोग चोरी का सामान बैग सहित किठावा पुलिया के नीचे छिपा दिया था जिसको लेने व बंटवारा करने गैंग के पांचो सदस्य आये हुए थे। उन्होंने बताया कि इन लोगों के विरूद्ध मवई व रौनाही थाना में आईपीसी व आम्र्स एक्ट की विभिन्न धाराओं में 6 मुकदमें पंजीकृत किये गये हैं सभी को जेल भेजा जा रहा है तथा इनके विरूद्ध गैंगेस्टर की कार्यवाही की जा रही है। चोर गिरोह को पकड़ने वाले पुलिस दल को 10 हजार रूपये नकद पुरस्कार दिया जा रहा है।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

मिलावट स्वास्थ्य पर असर डाल कर सकती है होली का रंग फीका: डा. उपेन्द्र

आसरा फाउंडेशन ने महिला बंदियों को दिया होली का सामान