in

सदर तहसील में डीएम ने सुनी फरियाद

सम्पूर्ण समाधान दिवस में आयीं 127 शिकायतें

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने अयोध्या तहसील सदर के सम्पूर्ण समाधान दिवस में आये हुये फरयादियों एवं शिकायतकर्ताओं के शिकायतों को गम्भीरता से सुनवाई की। सुनवाई के दौरान कुल 127 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुये। जिसमें विद्युत सम्बन्धी प्रकरण 08, पुलिस थाना प्रकरण 13, आपदा/राजस्व सम्बन्धी प्रकरण 60, ब्लाक स्तर से बी0डी0ओ0 से सम्बन्धी प्रकरण 11, चिकित्सा विभाग से सम्बन्धित प्रकरण 01 एवं अन्य प्रकरण 34 जिसमें से 03 शिकायती प्रार्थना पत्रो का यथा स्थान पर ही निस्तारित किया गया। और जिन शिकायती प्रार्थना पत्रो का त्वरित निस्तारण नही हो सकता था उसे सम्बन्धित अधिकारियों को मौके पर उनके शिकायती स्थल पर जाकर दोनो पक्षो से मिलकर सुनवाई एवं निरीक्षण करते हुये गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्ध निस्तारण करने के निर्देश दिये और कहा कि अगर इसके बाद भी शिकायतकर्ता ने दुबारा शिकायत रखी और कमी पायी गई तो सम्बन्धित, कर्मचारी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी, इसीलिए जो भी अधिकारी शिकायतकर्ता के शिकायतों का निस्तारण करेगे उसमें पूरी पारदर्शिता रखते हुये सम्बन्धित प्रकरण का निस्तारण करेगें। उसमें किसी प्रकार की, की गई हिलाहवाली छम्य न होगी।
उन्होनें नाली चकरोड़ के कब्जे से सम्बन्घित प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों पर सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों के प्रकरणों का यथा स्थान जाकर निरीक्षण करके उसका तुरन्त निस्तारण करें यदि कब्जा धारक उसके बाद भी नहीं मानता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज दर्ज करायें। उन्होनें निर्देश दिये कि प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों पर यह जरूर देख लें कि यदि प्राप्त प्रार्थना पत्रों में आपके विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों से जुड़ी समस्या है तो उस विभाग से समन्वय बनाकर उस प्रकरण का निस्तारण अपने स्तर से करायें, यदि कोई विभाग दूसरे विभाग की जिम्मेदारी मानकर इस प्रकरण का निस्तारण नही करेगा तो उस विभाग के प्रति अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी। गन्ना विभाग को निर्देश दिये गये कि जो भी शिकायतें आपके विभाग में आयें उसका जांच करके तुरन्त निस्तारण करायें। उन्होनें कहा कि जिस विभाग में लाभार्थी योजनाओं में धन प्राप्त नही हुये हैं वे विभाग उसे तुरन्त बजट रिलिज कराकर लाभार्थी योजनाओं को समय से पूर्ण कर लें।
जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि सभी विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी अपने विभाग में प्राप्त शिकायतो एवं विभागो से सम्बन्धित सभी प्रकरणो का निस्तारण मौके पर निरीक्षण करते हुये त्वरित करें तथा भूमि विवाद से सम्बन्धित शिकायती प्रार्थना पत्रो के प्रकरणो को राजस्व एवं रेवन्यू विभाग से सम्पर्क स्थापित करते हुये शिकायती प्रार्थना पत्रो का निस्तारण करेंगे। सम्पूर्ण समाधान दिवस पर क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी के अनुपस्थिति तथा उनके स्थान पर कार्यालय के सम्बन्धित सहायक के उपस्थित होने पर कड़ी नराजगी व्यक्त करते हुए समाधान दिवस पर उपस्थित सभी अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि जो भी अधिकारी बिना बतायें तथा बिना प्रार्थना पत्र स्वीकृत कराये गायब होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुये शासन को पत्र लिख दिया जायेगा।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

असाध्य रोग से पीड़ित प्रौढ़ ने की आत्महत्या

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना शुभारम्भ का हुआ लाइव प्रसारण