in

धार्मिक कार्यक्रम पर रोक लगाने पर आप ने खड़ा किया सवाल

कहा – सार्वजनिक स्थलों पर आरएसएस की शाखा लगाने पर प्रतिबंध सरकार कब लगाएगी

अयोध्या। आम आदमी पार्टी ने सार्वजनिक स्थलों पर श्रीमद् भागवत कथा व नमाज़ पढ़ने जैसे धार्मिक कार्यक्रम पर रोक लगाने पर सवाल खड़ा किया और प्रदेश की योगी सरकार से पूछा कि पार्को व सार्वजनिक स्थलों पर आरएसएस की शाखा लगाने पर प्रतिबंध सरकार कब लगाएगी । आम आदमी पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रवक्ता सभाजीत सिह ने कहा की जबकि पूजा प्रार्थना इबादत हमें मानवीय संवेदनाओं और आपसी सौहार्द का पाठ सिखाती है हिंसा के रास्ते पर नहीं ले जाती है उन्होंने प्रदेश की योगी सरकार पर लोगो कि धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाते हुये कहां कि श्रीमद् भागवत कथा नमाज पढ़ने जैसे धार्मिक कार्यक्रम को सार्वजनिक जगहों पर किए जाने पर रोक लगा रही है। प्रदेश प्रवक्ता सभाजीत सिंह ने कहा कि प्रशासन ने नोएडा के एक पार्क में नमाज़ के बाद अब ग्रेटर नोएडा में जिला पप्रशाशन ने श्री मद भागवत कथा के आयोजन को भी रोक दिया है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का यह फैसला लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने व तानाशाही करार दिया । श्री सिंह ने कहा कि सत्ता के लिए भाजपा धर्म के नाम पर लोगों को आपस में लड़ाने का काम करती है सत्ता मिलने पर धार्मिक आयोजन पर रोक लगाती है जो पूरी तरह से गलत है । श्री सिंह ने कहा कि बीजेपी सरकार में ही बनारस में जहां बड़ी तादात में मंदिर तोड़े गए शिवलिंग ओं को नाले में फेंका गया और भगवान श्री राम की नगरी अयोध्या में सैकड़ो मंदिरों को जर्जर बता कर तोड़ने के लिए अंतिम नोटिस दी गई है ।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

मंडल कारागार के जरूरतमंद कैदियों को वितरित किया वस्त्र

ग्रामीण कृषि कार्य अनुभव के तहत हुई किसान गोष्ठी