in

हमले के विरोध में व्यापारियों ने हाइवे जामकर किया प्रदर्शन

पटरंगा पुलिस की कार्यशैली से नाराज हुए व्यापारी

सीओ व एसडीएम ने मौके पर पहुंच व्यापारियों को समझा स्थिति को संभाला

मवई। पटरंगा थाना क्षेत्र के रानीमऊ में शुक्रवार की देर शाम एक चाट मटर व्यापारी पर हमले के बाद पुलिसिया कार्रवाई से नाराज व्यापारियों ने शनिवार की सुबह लिंक मार्ग को जाम कर पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।उसके बाद सैकड़ो व्यपारियो ने पुलिस की कार्यशैली से नाराज नेशनल हाइवे 28 को जाम कर पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाये।लगभग छः घंटे तक चले प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने हमले के मुख्य आरोपी को लखनऊ एयर पोर्ट से गिरफ्तार कर लिया।काफी मान मनौव्वल के बाद दोपहर लगभग एक बजे डीएम एसएसपी के आश्वासन के बाद व्यापारियों का प्रदर्शन समाप्त हुआ। बता दे कि रानीमऊ चौराहा निवासी रामफेर पुत्र राम अनंत गुप्ता रानीमऊ- कुशहरी मार्ग पर चाट मटर की दुकान लगाता है।उसके इस व्यवसाय में भतीजा चंद्र प्रकाश गुप्त भी मदद करता है।गुरुवार की शाम बाराबंकी जिले के असंदरा थाना अन्तर्गत मोहम्मद नगर निवासी शिब्बू अपने पांच अन्य साथियों के साथ पीड़ित की दुकान पर पहुंच पानी बतासा खाया।पैसा शिब्बू के साथी जफर ने दे दिया जिससे नाराज शिब्बू अपने दोस्तों को छोड़ वापस चाट मटर की दुकान पर आए।दुकानदार चंद्र प्रकाश गुप्त ने बताया शिब्बू दुकान पर आया और गाली देते हुए कहा कि तुमने मेरे दोस्त से पैसा क्यो लिया।व्यवसायी ने जब इसकी शिकायत करने शिब्बू के रिस्तेदार पड़ोस में रह रहे झब्बू से किया तो शिब्बू उसका तावा उलटकर व्यवसायी को मारने लगा।लोगों ने बीच बराव भी किया लेकिन शिब्बू उसे देख लेने की धमकी देते हुए चला गया।व्यवसाई चंद्र प्रकाश ने बताया शनिवार की देर शाम शिब्बू पुनः अपने दोस्तों के साथ दुकान पर आया।जहां उसके न मिलने पर उसके फूफा रामफेर गुप्त पुत्र रामअनंत पर लोहे की रॉड से हमला करते हुए लहूलुहान कर दिया।और उसकी चाट मटर की दुकान को भी पलटकर मौके से फरार हो गया।मामला तब विगड़ गया जब पीड़ित की सूचना पर यूपी0 100 की टीम मौके पर गई और बिना पीड़ित से मिले सीधे आरोपी के घर गए।जहां चाय नास्ता कर वापस चले गए।उसके बाद आक्रोशित व्यापारी घायल व्यापारी को लेकर थाने पहुंचे और छः लोगों के विरुद्ध तहरीर दी।तहरीर पर पुलिस ने 323,504,506 का मामला दर्ज कर अपने कार्यो की इतिश्री कर ली।दूसरी ओर सीएचसी मवई के डॉक्टरों ने घायल की हालत गंभीर बताते हुए उसे जिला अस्पताल के लिये रेफर कर दिया।मामले में व्यापारियों की सूचना पर शनिवार की सुबह घटना स्थल पर पहुंचे पटरंगा थाना प्रभारी बृजेश सिंह ने पीड़ित पक्ष के निशादेही पर एक आरोपी को मौके से पकड़ा और फिर उसे छोड़ दिया।हालांकि पुलिस का कहना है कि उसे छोडा नही गया है वो जीप से कूद गया था।उसे पुनः पकड़ लिया गया है।मामले में पटरंगा थानाध्यक्ष के रवैय्या से खिन्न व्यापारियों ने रानीमऊ कुशहरी लिंक मार्ग को जाम कर धरना दिया और पटरंगा पुलिस के विरोध में मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे।आरोप रहा कि एसओ मुख्य आरोपी शिब्बू को विदेश भगाने में मदद कर रहे है।हालांकि मौके पर पहुंचे सीओ अमरसिंह ने उसे लखनऊ एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लेने की बात बताई है।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

लायंस क्लब रूदौली ने आयोजित किया हेरिटेज वाक

मांगो को लेकर रेलवे मेन्स यूनियन ने सरकार को दी चेतावनी