The news is by your side.

बच्चों को ब्रेन जिम व संगीत से किया जा रहा विकसित

मिल्कीपुर। विदेशी तकनीक से अब अन्य देशों की भांति भारत के बच्चों का भविष्य उज्जवल हो सकेगा। गौरतलब हो कि उत्तर प्रदेश के अयोध्या जनपद के अमानीगंज शिक्षा क्षेत्र के अंतर्गत आशा देवी डिग्री कॉलेज व इंटर कॉलेज पिठला में चल रहेे ब्रेन बूस्टर इंटरनेशनल संस्थान द्वारा तीन से 16 वर्ष के बच्चों को जापानी तकनीक से ब्रेन जिम एवं संगीत के माध्यम से उनके मध्य मस्तिष्क छठी ज्ञानेंद्रिय को विकसित किया जा रहा है।
जिससे साधारण बच्चे में भी असाधारण गुण उत्पन्न हो जाते हैं बच्चा आंखों पर पट्टी बांधकर सामने खड़े व्यक्ति का रंग एक्टिविटी यदि हाथ में किताब दी जाए तो उसे बड़ी आसानी के साथ बिना देखे पढ़ सकता है इस प्रकार का त्रैमासिक प्रशिक्षण प्रत्येक रविवार को दिया जा रहा है।
प्रशिक्षण के बारे में राजस्थान से आए डीएमआईटी एक्सपर्ट डॉ हितेश कर्दम से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि ब्रेन एनालिसिस के जरिए हम बच्चों के दिमाग को पढ़ सकते हैं। वे क्या सोचते हैं, क्या बनना चाहते हैं, उनमें ऐसी कौन सी प्रतिभा छिपी है, जिसमें थोड़ा स्ट्रॉक किया जाए तो वे नई बुलंदियों और कामयाबी को हासिल कर सकते हैं। बच्चे के फिंगरप्रिंट द्वारा मनोविश्लेषण के जरिए पता लगाया जा सकता है कि कौन सा छात्र मेडिसिन में, कौन सर्जरी में, कौन इंजीनियरिंग में कौन आईपीएस, आईएएस या कौन स्प्रीचुअल लीडर की तरह काम करना चाहता है।
इस तकनीक में सबसे बड़ी बात यह है कि बच्चों को किसी भी एग्जाम व प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलने के चांस बढ़ जाते हैं बच्चे आंख बंद करके पूरी किताब अल्प समय में ही कंठस्थ कर सकते है विगत रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान संस्थान में प्रशिक्षण पा रहे बच्चों द्वारा इस प्रकार का प्रदर्शन किया गया । इसी क्रम में श्री कर्दम ने बताया कि बच्चों के 1 फिंगर का तीन फिंगर लिया जाता है फिंगर रिपोर्ट हेड ऑफिस भेजी जाती है तथा वहां से फिंगर को इंडोनेशिया भेजा जाता है उसके बाद वहां से 34 पन्नों की रिपोर्ट में बच्चे के ब्रेन बैलेंस, ब्रेन डेमिनेंस, स्क्वायरिंग मेथड आई क्यू ,ई क्यू, सी क्यू सहित अन्य रिपोर्ट प्राप्त होती है इस रिपोर्ट से पता चल जाता है कि बच्चा किस क्षेत्र में जाना चाहता है। इस मौके पर प्रोजेक्ट मैनेजर रवि प्रकाश सिंह , नंद कुमार यादव कैरियर काउंसलर, जे प्रकाश यादव मार्केटिंग मैनेजर, अवध ग्रुप के एमडी नाजिम अली, चंद्रभान जयसवाल, राम यज्ञ जयसवाल, क्रांति ,सोनी सिंह, अनिल कुमार उपाध्याय सहित बच्चों के अभिभावक उपस्थित रहे।

Advertisements
Advertisements
1 Comment
  1. Thesis Writing Services

    […]although internet sites we backlink to beneath are considerably not connected to ours, we feel they are basically worth a go as a result of, so have a look[…]

Comments are closed.