in ,

राम मंदिर मुद्दे को लेकर षड्यंत्र कर रही भाजपा : सूर्यकांत

7 मार्च को लालकिला से संसद मार्च को कामयाब बनाने के लिए छात्र युवा संवाद

अयोध्या। यंग इंडिया नेशनल कोआर्डिनेशन कमिटी द्वारा आगामी 7 मार्च को लालकिला से संसद मार्च को कामयाब बनाने के लिए छात्र युवा संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाकपा नेता सूर्य कांत पाण्डेय ने कहा कि उच्च शिक्षा संस्थानों को बदनाम करने, रोजगार समाप्त करने, भुखमरी बढाने, के सारे किर्तिमान मौजूदा सरकारों ने ध्वस्त कर दिया है। भाजपा सरकारों ने पूजीवादी घरानों को फायदा पहुंचाने के लिए विना बने ही जियो विश्व विद्यालय को श्रेष्ठता की श्रेणी में डाल दिया। उच्च शिक्षा संस्थानों में शोध छात्रों की सीटों में अस्सी फिसद तक कटौती की जा रहीं हैं।
श्री पाण्डेय गुलाबबाड़ी मैदान के सामने स्थित एक होटल में छात्र युवा संवाद कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता उपस्थित छात्रों, युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अपनी नाकामी से घबराकर सरकार पुराने राम मंदिर मुद्दे को पुनर्जीवित करने का खतरनाक षड्यंत्र कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि देश विदेश की तमाम एजेंसियों ने मौजूदा सरकारों के कामकाज की आलोचना किया है। अनेकों रिपोर्ट यह साबित करती है कि सरकार की गलती से पिछले पांच साल में सर्वाधिक आत्महत्या हुईं हैं।
आल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन के जिला अध्यक्ष देवेश ध्यानी की अध्यक्षता और भाकपा माले के जिला संयोजक अतीक अहमद के संचालन में हुए छात्र युवा संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए युवा कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष करन त्रिपाठी ने कहा कि भाजपा सरकारों ने छात्रों नौजवानों को सर्वाधिक बर्बाद किया है। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षण संस्थानों में हो रही आत्महत्याओ की जिम्मेदारी भारत सरकार की है। 7मार्च को आयोजित कार्यक्रम सरकार की नीवं में अंतिम कील साबित होगी।
संवाद कार्यक्रम में आईसा के संयोजक राम सिंह, आल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन के जिला मंत्री विनीत कनौजिया, युवा कांग्रेस के शिवम विश्वकर्मा, आल इंडिया यूथ फेडरेशन के महानगर संयोजक अब्दुल रहमान भोलू, विकास सोनकर, इन्कलाबी नौजवान सभा के संयोजक उमाकांत विश्वकर्मा, पप्पू सोनकर, कैफी़ खान, आशीष जायसवाल नीशू, सोहराब, मोनू जायसवाल सहित बड़ी संख्या में छात्र युवा मौजूद रहे।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

जिलाधिकारी ने गोसाईगंज कोतवाली का किया निरीक्षण

जनसमस्याओं को लेकर जनौस ने सौंपा ज्ञापन