लोकतंत्र को कुचलने की साजिश कर रही भाजपा सरकार : लीलावती

सपा नेताओं ने एमएलसी से की मुलाकात

Advertisement

फैजाबाद। समाजवादी पार्टी की नेत्री व विधान परिषद सदस्य लीलावती कुशवाहा स्वस्थ होने के बाद घर पहुॅंची। पहाड़गंज स्थित घर पहॅुंचने पर श्रीमती कुशवाहा का पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओं व शुभचिन्तकों ने मिलकर स्वास्थ्य के बारे में कुशल क्षेम पूछा। गत तीन जुलाई को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में समाजवादी महिला सभा की ओर से बिगड़ी कानून व्यवस्था, रसोई गैस, पेट्रोल, डीजल के दाम, बढ़ती हुई महंगाई, बिजली कटौती, महिलाओं का उत्पीड़न व दुष्कर्म आदि मुद्दों को लेकर शान्तिपूर्ण ढंग से हजरतगंज में प्रदर्शन हो रहा था। सभा की महिलायें मांगों को लेकर राजभवन की ओर कूँच कर रही थीं। तभी पुलिस ने लाठी चार्ज करके बुरी तरह से महिलाओं को पीटा जिसमें विधान परिषद सदस्य श्रीमती कुशवाहा को सिर, हाथ व कमर पर गहरी चोटें लगीं और चोट लगने से बेहोश हो गयीं जिसे लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। स्वस्थ होने पर श्रीमती कुशवाहा बीते बुधवार को देर रात्रि अपने घर पहुॅंची जहाॅं पर बड़ी संख्या में पार्टी व शुभचिन्तकों ने बुलाकात की। इस मौके पर श्रीमती कुशवाहा ने कहा कि योगी सरकार के इशारे पर पुलिस ने महिलाओं पर लाठियाँ भांजी जिससे कई महिलाओं को चोट आयी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोकतंत्र को कुचलने की साजिश कर रही है। भाजपा की योगी सरकार जनविरोधी है। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश के राज्यपाल क्यों नहीं इस प्रकरण को लेकर मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखते हैं। क्या उनको इसकी जानकारी नहीं हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आवास की पानी की टोटी को लेकर राज्यपाल ने मुख्यमंत्री योगी को पत्र लिखकर कार्यवाही करने की बात लिखी है लेकिन योगी सरकार की पुलिस महिलाओं पर लाठियाॅं चला रही है और राज्यपाल मौन धारण किये हुए हैं। सपा प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी ने बताया कि विधान परिषद सदस्य श्रीमती कुशवाहा पहले से स्वस्थ हैं धीरे-धीरे उनका स्वास्थ्य ठीक हो रहा है। प्रवक्ता ने बताया कि अपने आवास पहॅंुचने पर श्रीमती कुशवाहा से पार्टी के कई नेता, कार्यकर्ता व शुभचिन्तकों ने मुलाकात की।