The news is by your side.

भाकियू कार्यकर्ताओें ने कृषि भवन पर किया प्रदर्शन

अयोध्या। लगातार दो माहों से उपनिदेशक कृषि की लापरवाही से टल रहे किसान दिवस एवं कृषि विभाग की तमाम कल्याणकारी योजनाओं का लाभ किसानों को न मिलने के कारण आक्रोशित भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने पूर्व सूचना देकर कृषि भवन उपनिदेशक कृषि के कार्यालय के समक्ष पंचायत लगाई शाम 2ः30 बजे तक अधिकारियों के न आने पर आक्रोशित भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं /पदाधिकारियों ने कृषि भवन के मुख्य द्वार को बंद करते हुए उसके समक्ष बैठकर धरना शुरू कर दिया खबर लिखने तक किसी अधिकारी के पहुंचने की खबर नहीं है और धरना जारी है।

Advertisements

धरनाकारियो को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव घनश्याम वर्मा ने कहा कि उपनिदेशक कृषि की सोची समझी साजिश का परिणाम है कि लगातार दो माहो से किसान दिवस स्थगित किया जा रहा है किसान दिवस स्थगित करके किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं किया जा रहा है। पिछले वर्षों से गेहूं के बीज का सब्सिडी अभी तक नहीं मिला है। कृषि विभाग द्वारा कृषि यंत्रों की सब्सिडी पाने हेतु पोर्टल खोलने की जानकारी मात्र अधिकारियों द्वारा अपने दुकानदार एजेंटों को ही बताया जाता है जिसके कारण पात्र किसानों को लाभ नहीं मिल पाता केवल कमीशन देने वालों को ही लाभ मिलता है।

श्री वर्मा ने कहा कि किसान मेला हेतु हुए टेंडर में उपनिदेशक कृषि द्वारा बड़ा खेला किया गया है कमीशन लेकर अधिक दर पर बोली लगाने वाले को टेंडर दिया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदत्त मिनी किड्स तथा अन्य बीजों का वितरण में काफी हेराफेरी की गई है और अपने चहेतों को ही दिया गया है। जिला अध्यक्ष सूर्य नाथ वर्मा ने कहा कि अपराहन 11ः00 बजे से शांतिपूर्ण ढंग से पंचायत किया जा रहा है सूचना होने के बावजूद भी कृषि विभाग का कोई अधिकारी पंचायत में न आने के कारण मजबूरी में मुख्य द्वार को बंद करना पड़ा है और समस्या समाधान न होने तक तालाबंदी चलती रहेगी

इसे भी पढ़े  सीएमओ ने सीएचसी मया की स्वास्थ्य सेवाओं का लिया जायजा

आंदोलन में युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष भागीरथी वर्मा जिला उपाध्यक्ष राम गणेश मौर्य रंजीत कोरी सती प्रसाद वर्मा देवी प्रसाद वर्मा राजेश मिश्रा संतोष वर्मा महेंद्र वर्मा भोला सिंह टाइगर जगन्नाथ पटेल बाबूराम तिवारी नितेश सिंह नाथूराम यादव राम जगत यादव जगदीश यादव रविंद्र मोरिया उर्मिला निषाद राधा देवी श्रीमती शांति देवी रिंकू अली फूल माता देवी सुकई दास आदि सैकड़ों लोग शामिल रहे।

 

Advertisements

Comments are closed.