अयोध्या को स्मार्ट व सेफ सिटी के रूप में किया जाय विकसित : एम.पी. अग्रवाल

मण्डलायुक्त ने अयोध्या के मास्टर प्लान को लेकर की बैठक

Advertisement

अयोध्या। मण्डलायुक्त एम0पी0 अग्रवाल की अध्यक्षता में अयोध्या नगर को स्मार्ट एवं सेफ सिटी के रूप में विकसित करने के सम्बन्ध में मण्डलायुक्त कक्ष में बैठक हुई। इस बैठक में जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने अयोध्या नगर के सम्बन्ध में बेहतर बनाने हेतु विभिन्न बिन्दुओं पर प्रकाश डाला तथा बताया कि नगर निगम के सहयोग से अयोध्या के विकास हेतु आवश्यक कार्यवाही किया जाना वर्तमान सम्बन्ध में अति आवश्यक है इसके क्रम में मण्डलायुक्त ने सहमति व्यक्त करते हुए कहा कि सक्षम शहरी गतिशीलता एवं सार्वजनिक परिवहन-नगर निगम द्वारा शहर के 10 चौराहों क्रमशः 01- सिविल लाइन तिराहा, 02-रिकाबगंज चौराहा, 03- गुदड़ी बाजार चौराहा, 04-टेढ़ी बजार चौराह, 05-नयाघाट चौराहा, 06-नाका तिराहा, 07-पुलिस लाइन चौराहा, 08 देवकाली चौराहा, 09-उदया चौराहा, 10-फतेहगंज चौराहा, 11-चौक चौराहा पर इन्ट्रिग्रेटड ट्राफिक मैनेजमेन्ट प्रणाली के अन्तर्गत ट्राफिक लाइट, सिटी सर्विलाइन्स अन्तर्गत सीसीटीबी कैमरा, पब्लिक एड्रेस सिस्टम एवं कन्ट्रोल रूम की स्थापना किया जाना आवश्यक है इस हेतु सम्बन्धित विभाग प्रस्ताव तैयार करें।
मण्डलायुक्त ने कहा कि शहर के अन्य मुख्य चौराहों, पोस्ट आफिस चौराहा, रायबरेली रोड चौराहा, रीडगंज चौराहा, हनुमानगुफा, हनुमानगढ़ी, तहसील तिराहा, रानोपाली मोड़, देवकाली रोडकट, साकेत डिग्री कालेज, अयोध्या रेलवे स्टेशन मोड, नियांवा चौराहा पर सोलर बिलिंकर स्थापना किया जाना, शहर में सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत विभिन्न क्षेत्रों में सीसीटीबी कैमरे लगाये जाने एवं अन्य सम्बन्धित व्यवस्थाएं किया जाना, स्मार्ट टैक्सी स्टेण्डस, स्मार्ट बस स्टैण्डस की स्थापना करना तथा शहर में प्रस्तावित संचालित होने वाली सीएनजी बसों के रूट पर स्मार्ट बस सेल्टर बनाया जाना जिन पर सीसीटीबी कैमरे/पब्लिक ट्रान्सपोर्ट के रियल टाइमिन्गस इत्यादि के लिए एलईडी डिस्प्ले लगाया जाना, सहादतगंज चुंगी, हनुमागढ़ी सिविल लाइन, रिकाबगंज, गुदड़ी बाजार, टेढ़ी बाजार, उदया क्रासिंग होते हुए बन्धा तिराहे तक एवं बन्धा तिराहे से साकेत पेट्रोल पम्प तक सड़क को स्मार्ट स्ट्रीट के रूप में विकसित किये जाने जिसके अन्तर्गत सड़क को स्मार्ट स्ट्रीट के रूप में डिजाइन किया जाना जिसमें पाथवे, साइनेजिज, बैंचेज, ज्योमैट्रिकल डिजाइन के अनुसार डिस्प्ले बोर्ड जगह-जगह पर हरियाली आदि करने हेतु भी सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को कार्ययोजना बनाने हेतु निर्देश दिया।
मण्डलायुक्त ने नगर निगम के अधिकारियों को अन्य विभागों के साथ समन्वय कर बेहतर कार्ययोजना बनाने को कहा तथा यह भी कहा कि ऐसी कार्ययोजना बनाई जाये कि अयोध्या की परम्परागत, वैदिक, पौराणिक, सांस्कृतिक महत्व को और रेखाकिंत करते हुए आधुनिक अयोध्या का और विस्तार किया जा सके तथा अयोध्या के 2032 के मास्टर प्लान को भी बेहतर ढंग से बनाने की कार्यवाही किया जाये। अयोध्या शहर के प्रवेश मार्गो की इन्ट्रेन्स का सौन्दर्यीकरणः- अयोध्या शहर में आने वाले मुख्य मार्गो लखनऊ मार्गो (सहादतगंज), रायबरेली मार्ग (नवीन मण्डी), सुल्तानपुर रोड (नाका) गोण्डा मार्ग (नयाघाट) है। इन मुख्य मार्गा के इन्ट्रेन्स पर ज्योमैट्रिकल डिजाइन, थी्र-डी इमेज, हाइलाइट, स्मार्ट एलईडी लाइटस, स्मार्ट बस सेल्टर्स अयोध्या के संस्कृतिक को दृष्टिगत रखते हुए शहर की विभिन्न इमेजेज को हाईलाइट करना।
अयोध्या शहर के महत्वपूर्ण स्थानों पर स्मार्ट टॉयलेट की स्थापनाः- शहर के नागरिकों एवं बाहर से आने वाले श्रद्धालुंओ की सुविधा हेतु राम की पैड़ी, रामकथा पार्क, नयाघाट, बन्धा तिराहा, मणिपर्वत एवं अन्य मुख्य बस स्टेशन हास्पिटल वाले स्थलों हेतु स्मार्ट टॉयलेट की स्थापना की जा सकती है। जिसमें आटोमैटिक फलस् सिस्टम, इनका कन्ट्रोल कमान्ड सेन्टर्म से रख-रखाव इत्यादि किया जा सकता है। इन टॉयलेटस में बायोहाईजेस्टर लगाकर इत्यादि लगाकर उससे निकलने वाले वेस्ट वाटर की क्वालिटी स्टैण्डर्ड नॉन्स के अन्तर्गत रखी जा सकती है। अयोध्या शहर के अन्तर्गत जिलाधिकारी कार्यालय के पीछे स्थित शहीद उद्यान पार्क को मॉडल पार्क के रूप में विकसित किया जा सकता है जिसमें पाथव ओपेन जिम, बच्चों के मनोरंजन के लिए झूले, योगा स्थल, वाटर वॉडी, ओपेन थियेटर, हर्बल गार्डन, साउण्ड सिस्टम, लाइटिंग के रूप में विकसित किया जा सकता है। शहर के मुख्य स्थलों पर डिजिटल स्क्रीन्स का लगाया जानाः- शहर के मुख्य स्थलों पर डिजिटल स्क्रीन्स लगायी जा सकती है, जिसमें जनहित की विभिन्न योजनाओं एवं शहर में हो रहे धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आदि का प्रचार प्रसार किया जा सकता है।
राज्य स्मार्ट एवं सेफ सिटी योजना :- स्मार्ट रोड उदया से बन्धा तिराहा, स्मार्ट लेन हनुमानगढ़ी, पार्क शहीद पार्क, तुलसी उद्यान पार्क, राजद्वार पार्क, राजघाट पार्क, चौराहा, नयाघाट चौराहा, टेढ़ी बाजार चौराहा, उदया चौराहा, देवकाली चौराहा, सिविल लाइन तिराहा, रिकाबगंज चौराहा, गुदढ़ी बाजार चौराहा, नाका तिराहा, पुलिस लाइन चौराहा, फतेहगंज चौराहा, सहादतगंज हनुमानगढ़ी चौराहा, चौक चौराहा, कुण्ड विद्याकुण्ड, विभीषण कुण्ड, दन्तधावन कुण्ड, सीताकुण्ड आदि शामिल हैं। बैठक में जिलाधिकारी के अतिरिक्त नगर आयुक्त नीरज शुक्ला, नगर अभियन्ता एवं अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों आदि ने भाग लिया।