The news is by your side.

संग्रहालय दिवस पर कला प्रतियोगिता व प्रदर्शनी का हुआ आयोजन

-देश कुल 51 सीनियर व जूनियर कलाकारों ने ऑनलाइन किया प्रतिभाग

अयोध्या ।अन्तर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय एवं आर्ट गैलरी के तत्वावधान में 18 मई, अन्तर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय स्तर पर 14 से 18 मई तक 5 दिवसीय ऑनलाइन कला प्रतियोगिता व प्रदर्शनी का आयोजन सम्पन्न हुआ। जिसके अंतर्गत अंतर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय एवं आर्ट गैलरी अयोध्या में संग्रहित कलाकृतियों की विभिन्न मुद्राओं में चित्रकला के माध्यम से सृजनात्मक पेंटिंग / मूर्तिकला की वर्किंग फ़ोटो, सृजित कलाकृति की फ़ोटो के साथ अपना पूर्ण विवरण सहित कलाकारों ने संग्रहालय के ईमेल पर भेजकर प्रतिभाग किये थे। जिसे अन्तर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय एवं आर्ट गैलरी अयोध्या के फेसबुक पेज व शोसल मीडिया के अन्य माध्यमों पर ऑनलाइन प्रदर्शित की गई।

Advertisements

संग्रहालय में संग्रहित कलाकृतियों के विषय पर आधारित राष्ट्रीय ऑनलाइन चित्रकला / पेन्टिंग / मूर्तिकला प्रतियोगिता व कला प्रदर्शनी में सम्पूर्ण भारत देश कुल 51 सीनियर व जूनियर कलाकारों ने प्रतिभाग लिये जिनके द्वारा ऑनलाइन प्राप्त पेन्टिंग व मूर्तिकला का चयन 18 मई को संग्रहालय के उपनिदेशक योगेश कुमार तथा कार्यक्रम संयोजक शिव बक्श सागर प्रजापति के निर्देशन में गठित समिति द्वारा किया गया ।

कार्यक्रम में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले कलाकारों में मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के बस्ती से प्रवीण कुमार , गोण्डा से पवन आर्ट, वाराणसी से अंजनी मिश्रा, शालिनी मिश्रा, पद्मिनी मेहता, लखनऊ से पूजा कनौजिया, अयोध्या से राम आशीष, श्रेया मौर्या, कृपा शंकर गुप्ता, गाजीपुर से शालिनी सिंह, अमरोहा से डॉ पंकज रानी, अलीगढ़ से समृद्धि सिंघल, चित्रकूट से कंचन सिंह, मेरठ से शशि कौशिक, हाथरस से डॉ भेद प्रकाश सिंह, बाराबंकी से मूर्तिकार राम तीरथ, बागपत से आकाश, गोरखपुर से प्रियंका गुप्ता, सुल्तानपुर से चन्द्रपाल राजभर तथा अन्य प्रदेशों में राजस्थान से हीरालाल चित्रकार, अयन हलदार, हिमाचल प्रदेश से रिशु कुमार, उत्तराखंड से मुकुन्द पुरोहित, उड़ीसा से कृतिकृष्णा पंडा, दिल्ली से डॉ दिव्या मिश्रा, मध्यप्रदेश से प्रतिभा राठौड़, रिया जैन, सपना चौरे, शिवली राजपूत , श्याम कुशवाहा, असम से रूपा मनि चौहान, मिना कामछा पी, महाराष्ट्र से अनन्या महेश खंडेलवाल आदि कलाकारों को शामिल किया गया है।

इसे भी पढ़े  मलेरिया लाल रक्त कोशिकाओं का संक्रमण : डाॅ. अभय त्रिपाठी

इसी प्रकार अन्तर्राष्ट्रीय रामकथा संग्रहालय का भी इस कार्य मे अपना एक विशेष भूमिका निभा रहा है। कोरोना संक्रमण के कारण यह कार्यक्रम ऑनलाइन करना पड़ा।कार्यक्रम में प्रतिभागी कलाकारों को ऑनलाइन प्रतिभाग का प्रमाण पत्र के साथ सम्मानित भी किया तथा जल्द ही निर्णायक मण्डल द्वारा टॉप 8 कलाकारों का चयन करके उन्हें पुरस्कृत करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन कोरोना काल के बाद किया जाएगा। जिसकी सूचना कोरोना काल के बाद होने वाले कार्यक्रम के पूर्व प्रेषित की जाएगी।

Advertisements

Comments are closed.