परिवार नियोजन से निभाए जिम्मेदारी : डा. हरिओम श्रीवास्तव

महिला अस्पताल में मनाया गया विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा

अयोध्या। जिला महिला अस्पताल मे विश्व जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाया गया । इसके अंतर्गत परिवार नियोजन में पुरुषों की सहभागिता को बढ़ाने के लिए पुरुष नसबंदी के विषय में आशा,एएनएम एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा आम लोगों को जागरूक किया गया ।मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰हरिओम श्रीवास्तवने बताया कि जनसंख्या वृद्धि के दुष्परिणामों को देखते हुये परिवार नियोजन में पुरुषों की सक्रिय सहभागिता अत्यंत आवश्यक है, उन्होने बताया कि जनपद में महिलाओं द्वारा परिवार नियोजन के साधनों जैसे- ओरल पिल्स, छाया पिल्स, अंतरा इंजेक्शन, आईयूसीडी, व महिला नसबंदी को अपनाया गया है,
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ॰सी बी दिवेदी ने बताया कि इस वर्ष जनसंख्या स्थिरता दिवस की थीम “परिवार नियोजन से निभाए जिम्मेदारी, माँ और बच्चे के साथ की पूरी तैयारी” तय की गयी है। जिसमें दो बच्चों के अंतराल पर जोर दिया गया है। जनसंख्या दिवस पर परिवार नियोजन पखवाड़ा 11 जुलाई से 25 जुलाई तक मनाया जाएगा द्यजिसमें आशा और एएनएम को उनके क्षेत्र के टार्गेट दंपत्ति को चुनकर उनको परिवार नियोजन के साधनों के बारें में जानकारी देनी है साथ ही उन्हे परिवार नियोजन का कोई भी साधन अपनाने के लिए जागरूक करेगी, और जिसमें शिविर लगाकर लाभर्थियों को परिवार नियोजन की सुविधाएं दी जाएंगी।
जिला कार्यक्रम प्रबन्धक राम प्रकाश पटेल ने बताया कि प्रजनन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में परिवार नियोजन की बहुत अधिक भूमिका है। इसी के साथ इसमें लाभार्थियों को प्रोत्साहन राशि भी दी जाती है, जो इस प्रकार है- नसबंदी कराने वाले परूषों और महिलाओं को क्रमशः 3000 और 2000 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाती है। इसके अलावा पोस्ट पार्टम स्टर्लाईजेशन (प्रसव के तुरंत बाद नसबंदी) कराने वाली महिलाओं को 3000 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाती है। जबकि अस्थायी विधियों में प्रसव पश्चात आईयूसीडी एवं गर्भपात (स्वतः व सर्जिकल द्वारा ) उपरांत आईयूसीडी, जिसको सरल भाषा में कॉपर-टी कहा जाता है के लिए लाभार्थी को 300( 2 फॉलोअप पर) , अंतरा इंजेक्शन लगवाने पर 100रुपये प्रति डोज की प्रोत्साहन राशि दी जाती है। पी एस आई के अमित बाजपेईने बताया कि पी एस आई संस्था द्वारा शहरी व मलिन बस्ती मे पात्र दंपतियों को परिवार नियोजन की ग्रहयता बढ़ाने हेतु प्राचार प्रसार एवं जागरूकता के माध्यम से सहयोग प्रदान करेगी।
इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्साधिकारी अर्बन ड़ा ॰ए के सिंह ,महिला चिकित्सा अधीक्षक डा॰ एस के शुक्ला , मंडलीय कार्यक्रम प्रबन्धक देव नाथ ,डीएचईआईओ वी पी सिंह ,डा॰ रजी ,शहरी स्वास्थ्य समन्वय सुनील डीसीपीएम अमित ,कमलेश व एएनएम,आशा आगनवाडी स्वास्थ्य विभाग का समस्त स्टाफ मौजूद रहा।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  पंडित भोलानाथ के शास्त्रीय गायन से मुदित हुए छात्र-छात्राएं