हड़ताल के पहले दिन कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन, निकाली रैली

बैंको के नहीं खुले ताले, लगभग 100 करोड़ का लेनदेन हुआ प्रभावित

अयोध्या। यूपी बैंक इम्पलाइज यूनियन के आहवान पर हड़ताल की गयी तमाम बैंको के ताले नहीं खुले और लगभग 100 करोड़ रूपये का लेनदेन प्रभावित हुआ। भारतीय स्टेट बैंक हड़ताल में शामिल नहीं था।
हड़ताली बैंक कर्मचारियों ने स्टेट बैंक पत्र एकत्र होकर जुलूस बनाकर सेंट्रल बैंक सिविल लाइन पहुंचे जहां प्रदर्शन करते हुए सभा किया। हड़ताल का नेतृत्व यूनियन के अध्यक्ष के.के. रस्तोगी व मंत्री सुभाष चन्द्र श्रीवास्तव ने किया। प्रदर्शन स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि केन्द्र सरकार ट्रेड यूनियन अधिकारों का निषेध करने जा रही है सभी श्रमिक कानूनों को समाप्त करके कर्मचारियों का अहित करने की मंशा रखती है। 6 सूत्रीय मांगो को लेकर बैंककर्मी आन्दोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस हड़ताल में बीमा, दूरसंचार, फैक्ट्री, मजदूर संघ, रिवर्ज बैंक आदि के पूरे देश के 20 करोड़ मजदूर कर्मचारी और अधिकारी हड़ताल पर हैं। सभा को सम्बोधित करने वालों में सुरेश सिंह, रवीन्द्र, राम प्रीत, राम प्रकट, रामचन्द्र यादव, राम गोपाल सिंह, दिनेश तिवारी, सुनील कुमार, राम किशुन आदि शामिल रहे।
इसी तरह केन्द्रीय कर्मचारी परिसंघ से जुड़े कर्मचारियों ने दो दिवसीय हड़ताल के पहले दिन कामकाज ठप्प रखा। बीएसएएल इम्पलाइज यूनियन ने भी हड़ताल के पहले दिन सिविल लाइन स्थित बीएसएनएल कार्यालय से जुलूस निकाला व प्रधान डाकघर होते हुए वापस कार्यालय पहुंची। रैली का नेतृत्व यूनियन के जिला सचिव तिलकराज तिवारी ने किया। विचार व्यक्त करने वालों में जियालाल चौधरी, शिव प्रताप सिंह, राम चेत यादव, अख्तर अली, उमाशंकर तिवारी, आरपी पाल, तारा यादव, शोभना खरे, पुष्पा श्रीवास्तव, अनीता सिंह, प्रभावती पाण्डेय, हरीराम, स्नेहा, रियाज अहमद आदि शामिल थे। लोक निर्माण विभाग मिनिस्ट्रीरियल एसोसिएशन से जुड़े कर्मचारियों ने भी हड़ताल किया। यह जानकारी जिलाध्यक्ष हरिशंकर सिंह व जिला मंत्री शिवम त्रिपाठी ने दिया है।

इसे भी पढ़े  बिना मास्क के बाहर घूमने वाले 690 पर की गई कार्यवाही

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More