The news is by your side.

नागरिक सुरक्षा के स्वयंसेवक प्रशासन का करेंगे सहयोग

-प्रदेश के नौ नगरों में नागरिक सुरक्षा विभाग की शुरुआत की मंजूरी

अयोध्या। नागरिक सुरक्षा के स्वयंसेवक जल्द ही अयोध्या में प्राकृतिक और मानव सृजित आपदा से लड़ने के लिए तैयार नजर आयेंगे। ये बात अयोध्या नागरिक सुरक्षा के प्रभारी सहायक उपनियंत्रक ऋषि कुमार ने एक बैठक के दौरान कही। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश के नौ नगरों में नागरिक सुरक्षा विभाग की शुरुआत की मंजूरी प्रदान की है। इन नौ नगरों में से एक नगर अयोध्या भी है।

Advertisements

उप नियंत्रक मनोज वर्मा ने बताया कि अयोध्या में सिविल डिफेंस को सक्रिय करने के लिए नगर में स्थित होटल शान ए आवास में आज एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई, जिसमे शहर के दो दर्जन से ज्यादा संभ्रांत गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया और नागरिक सुरक्षा कोर से जुड़ने का आश्वासन दिया। इस दौरान ऋषि कुमार ने नागरिक सुरक्षा के गठन, उद्देश्य और महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 1962 में बने नागरिक सुरक्षा का दायरा धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है। पहले जहां युद्ध से बचाव में ही नागरिक सुरक्षा की भागेदारी होती थी वहीं आज के समय में आपदा में भी नागरिक सुरक्षा की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो गई है।

नागरिक सुरक्षा के स्वयंसेवक हर आपदा से निपटने में जिला प्रशासन का सहयोग करते है। इस अवसर पर बैठक के आयोजक उत्तम बंसल ने ये आश्वासन दिया कि नगर अयोध्या के सम्मानित व्यक्ति जो नागरिक सुरक्षा की आज की बैठक में भाग ले रहे हैं, वो आने वाले दिनों में नगर का नाम रोशन करते नजर आएंगे। साथ ही जो भी दायित्व सौंपा जाएगा उस पर निष्ठापूर्वक कार्य करेंगे और नागरिक सुरक्षा को मजबूती प्रदान करेंगे।

इसे भी पढ़े  मण्डलायुक्त ने अधिकारियों के साथ मेला परिसर का लिया जायजा

नागरिक सुरक्षा की बैठक में भाग लेने वालो में मुख्य रूप से अनूप मल्होत्रा, विवेकानंद, उत्तम बंसल, डॉ पियूष गुप्ता, सार्थक जायसवाल, सिद्धांत मौर्य,ललित रंजन, शुचिता भल्ला,हर्ष अग्रवाल,आशीष अग्रवाल,राजीव अग्रवाल,गोविल जायसवाल आदि उपस्थित हुए।

Advertisements

Comments are closed.