विधायक रामचंद्र यादव के अनुज का हुआ अंतिम संस्कार

अन्तिम दर्शन के लिए सरयू तट पर उमड़ा सैलाब

अयोध्या। सांवली सी सूरत और उजली बेदाग सीरत लिये विधायक रामचंद्र यादव के भाई हरिश्चंद्र यादव जैसी शख्सियत की मृत्यु पर पूरा मिल्कीपुर व रुदौली रोया। पैतृक गांव घटौली, मिल्कीपुर से जब उनका स्वर्गयान निकला तो सड़कों पर सिर्फ लोगों का हुजूम नजर आ रहा था। हर कोई गमगीन था। परिवार पूरी तरह व्यथित था। हरिश्चंद्र यादव की कमी हमेशा पूरे घटौली गांव को ही नहीं जिले भर को अखरेगी। ऐसी बात हर किसी के जुबान पर थी। शनिवार को अपराह्न एक बजे अंतिम संस्कार हुआ। पिता की चिता को मुखाग्नि बड़े बेटे अवधेश यादव ने दी। राम घाट अयोध्या पर अंतिम संस्कार में हजारों की तादात में लोगों ने पहुंच कर अंतिम दर्शन किया। इस दौरान शोक संवेदना व्यक्त करने प्रशासनिक अफसरों के अलावा राम मंदिर आंदोलन के फायरब्रांड नेता विनय कटियार, सांसद सांसद लल्लू सिंह, पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद, विधायक वेद प्रकाश गुप्त, दरियाबाद के विधायक सतीश शर्मा, महापौर ऋषिकेश उपाध्याय, पूर्व विधायक रामू प्रियदर्शी, एमएलसी हीरालाल यादव, महंत मनमोहन दास, रुदौली ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि सर्वजीत सिंह, कमलेश यादव, महंत राज कुमार दास, भाजपा के प्रदेश कार्य समिति सदस्य अभिषेक मिश्र, पत्रकार अर्जुन यादव, भाजपा के मवई मंडल अध्यक्ष निर्मल शर्मा, भाजपा नेता रघुनंदन चौरसिया, समाजसेवी अनित शुक्ला, आनंद मौर्य, विनोद यादव, सुभाष यादव,रामजी यादव, हरिशरण दुबे, महेंद्र पांडेय, वीरेंद्र शर्मा, शिवकेश शुक्ला, राज किशोर सिंह, डा. शोभालाल यादव, शीतला शुक्ल, सपा के युवा नेता बृजेश यादव, पूर्व मंत्री आनन्द सेन यादव, जय सिंह यादव समेत तमाम लोग पहुंचे।

इसे भी पढ़े  कुल्हाड़ी से हमलाकर चचेरे भाई ने किया मरणासन्न, लखनऊ रेफर

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More