विश्वविद्यालय के छात्रों को कुलपति ने वितरित किया बार कोडेड स्मार्ट आइकार्ड

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को यू.आर. कोडेड स्मार्ट आइकार्ड का वितरण आईईटी संस्थान के कल्पना चावला सभागार में कुलपति प्रो. मनोज दीक्षित ने बीटेक, एमबीए, बीबीए एवं बीसीए के विद्यार्थियों को आइकार्ड प्रदान किया गया। इस अवसर पर कुलपति प्रो. दीक्षित ने बताया कि छात्रों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के लिए लगातार कदम उठाए गए हैं। इसी क्रम में विद्यार्थियों के लिए यह अत्याधुनिक आइकार्ड तैयार किया गया। आइकार्ड के बार कोड को स्कैन करके कहीं से भी पूरी जानकारी मिल जाएगी। भविष्य में इसी स्मार्ट कार्ड पर विद्यार्थियों की स्वास्थ्य संबंधी जानकारी भी अपडेट की जाएगी, जिससे विद्यार्थियों के लिए यह और भी ज्यादा उपयोगी हो सके। कुलपति ने कहा कि विवि को तकनीक के क्षेत्र में भी अग्रणी बनाने का प्रयास जारी हैं।
इससे पहले प्रो. हिमांशु शेखर सिंह ने स्मार्ट कार्ड की जानकारी विस्तारपूर्वक विद्यार्थियों से साझा की। उन्होंने बताया कि इस कार्ड को छात्रों के यूनिक आइडेंटीफिकेशन नंबर (यूआइएन) से जोड़ा गया है। उन्होंने बताया कि यूआइएन पर जो-जो ब्यौरा छात्रों ने दिया है उसका डाटा उसमें उपलब्ध रहेगा। विवि स्तर से इसी कार्ड पर विद्यार्थियों की डिग्री, मार्कशीट भी उपलब्ध कराई जाएगी। विद्यार्थियों के अंकपत्रों व डिग्री आदि के सत्यापन की प्रक्रिया भी इससे आसान हो सकेगी। समारोह का संचालन तकनीकी संस्थान के निदेशक प्रो. आरपी मिश्रा ने किया। इस मौके पर प्रो. के. के वर्मा, डॉ. शैलेंद्र वर्मा, डॉ. राना रोहित सिंह, डॉ. सुधीर श्रीवास्तव, डॉ. बृजेश भारद्वाज, पारितोष त्रिपाठी, परिमल तिवारी, अनुराग तिवारी, संजीत पांडेय, डॉ. निमिष मिश्रा, डॉ. दीपा सिंह, कविता श्रीवास्तव, डॉ. अनीता मिश्रा, जूलियस कुमार, रवींद्र भारद्वाज, विवेक उपाध्याय डॉ. आशुतोष पांडेय, आशीष पटेल, अनुराग सिंह आदि थे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More