वेतन में देरी, प्राथमिक शिक्षक संघ का पारा सातवें आसमान पर

  • जिलाध्यक्ष ने विभागीय लिपिकों पर लगाया लापरवाही का आरोप

  • अगस्त माह का पखवारा बीत जाने के बाद भी शिक्षकों कों वेतन नही मिला

फैजाबाद। वेतन में देरी पर प्राथमिक शिक्षक संघ का पारा सातवें आसमान पर।जिलाध्यक्ष नीलमणि त्रिपाठी नें विभाग के लेखाधिकारी एवं लिपिकों पर घोर लापरवाही का आरोप लगाया,शीघ्र भुगतान न होने पर आन्दोलन की चेतावनी दी। स्वतंत्रता दिवस व नागपंचमी रही फीकी। शिक्षकों में भारी आक्रोश।
अगस्त माह का पखवारा बीत जाने के बाद भी शिक्षकों कों वेतन नही मिला है।ई कुबेर प्रणाली से जल्दी के बजाय देरी के पीछे लेखाधिकारी और कार्यालय लिपिकों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए श्री त्रिपाठी नेे कहा कि पांच अगस्त को सभी ब्लाकों का वेतनबिल पहुच जाने के बावजूद वेतन न निर्गत होना इसका सबूत है।कार्यालय में लेखाधिकारी खुद यदाकदा रहतें हैं लिपिक मात्र कुछ फीडिंग करके घूमते रहते हैं।इसके लिए एनआइसी में बाकायदा प्रशिक्षण भी हुआ है लेकिन लगता है प्रशिक्षण में लेखाकर्मी गम्भीर नही थे। उन्होने कहा कि जल्दी वेतन भुगतान का आश्वासन देते देते पंद्रह दिन बीत गए।स्वतंत्रता दिवस और नागपंचमी जैसे त्योहारों पर शिक्षकों के हाथ खाली रहे।जिलामंत्री अजीत सिंह भी लेटलतीफी पर आगबबूला हुए उन्होने कहा कि इससे शासन की बदनामी हो रही है।कोषाध्यक्ष वीरेंद्र भारती नें कहा कि इसकी लिखित शिकायत की जाएगी।जिलाउपाध्यक्ष अजय सिंह व संतोष यादव नें कहा कि पंद्रह पंद्रह दिन की देरी अक्षम्य है।इस बाबत संघ का पारा सातवें आसमान पर है।शिक्षक नेताओं ने आंदोलन की चेतावनी देते हुए कहा कि इसके लिए लेखाधिकारी व उनका कार्यालय जिम्मेंदार होगा।

इसे भी पढ़े  पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More