सिन्धी महिलाओं ने मनाया झूलेलाल चालिहा महोत्सव

समाज के विकास में प्रभु झूलेलाल चालिहा महोत्सव का बड़ा महत्व: मुस्कान सावलानी

Advertisement

फैजाबाद। समाज के विकास में प्रभु झूलेलाल चालिहा महोत्सव का बड़ा महत्व है। देश की तरक्की, उन्नति व खुशहाली के लिये सिन्धी समाज चालिहा महोत्सव के दौरान पूजा अर्चना कर प्रभु झूलेलाल की आराधना करता है। यह बातें सिन्धु महिला परिवार की अध्यक्ष मुस्कान सावलानी ने कहीं। रामनगर कालोनी के संत नवलराम दरबार में सिन्धु सेवा समिति द्वारा आयोजित प्रभु झूलेलाल चालिहा महोत्सव के 35वें दिन महिला परिवार ने प्रभु झूलेलाल को लड्डुओं का भोग लगाया। श्रीमती सावलानी ने कहा कि समाज में सुख-शान्ति, अमन-चैन बना रहे। इसके लिये बड़ी संख्या में चालिहा महोत्सव के दौरान सावन माह में 40 दिनों तक लगातार प्रभु झूलेलाल की पूजा अर्चना की जाती है। इस मौके पर उत्तर प्रदेश सिन्धी युवा समाज के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश ओमी ने कहा कि चालिहा महोत्सव साहित्य कला, सिन्धु संस्कृति व सभ्यता से जुड़ा हुआ है। चालिहा महोत्सव पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। महिला परिवार की प्रवक्ता चेतना वासवानी ने बताया कि चालिहा महोत्सव के अवसर पर महिला परिवार ने लड्डुओं का भोग चढ़ाया। इस मौके पर नवलराम, कपिल कुमार, कन्हैया लाल व भगत मिन्टू ने झूलेलाल के गीतों से समाॅं बांधी। इस मौके सिन्धु सेवा समिति के अध्यक्ष मोहन मंध्यान, ओम प्रकाश अंदानी, हरीश सावलानी, सत्य प्रकाश राजपाल, रामचन्द्र रामानी, संतोष सेहता, लधाराम रामानी, कैलाश लखमानी, ज्ञान प्रकाश टेकचंदानी व महिला परिवार की प्रिया वलेशाह, मुक्ता मंध्यान, नीलम राहेजा, पूजा माखेजा, सीमा रामानी, बबिता चावला, शान्ती नारंग, किरन पंजवानी, चम्पा बजाज, अंजली लखमानी, वर्षा वलेशाह, कंचन काछेला, भावना वरियानी, रेखा लखमानी, जमुना माखेजा, भारती खत्री, कनक माखेजा, पूनम आडवानी, बबिता माखेजा, एकता जीवानी, जया राहेजा, ज्योति भारतीय आदि बड़ी संख्या में महिला, पुरूष व बच्चे मौजूद थे।