in ,

गणतंत्र दिवस पर अवध विवि में हुए विविध आयोजन

छात्र-छात्राओं ने की देश भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुति

अयोध्या। डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में 70वें गणतन्त्र दिवस के अवसर पर स्वामी विवेकानन्द सभागार में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में विश्वविद्यालय परिसर, साकेत महाविद्यालय, परमहंस कालेज एवं झुनझुनवाला महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने अपनी देश भक्ति पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुति देकर उपस्थित जनसमूह का मनमोह लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित रहे। सांस्कृतिक कार्यक्रम में विश्वविद्यालय परिसर की छात्रा मानसी द्विवेदी ने मैं रहूॅ या ना रहूॅ देश रहना चाहिये….एकल गीत के माध्यम से श्रोताओं को भावविभोर कर दिया। स्वप्निल त्रिपाठी ने ऐ मेरे वतन के लोगों….गीत पर एकल नृत्य कर मन मोह लिया। सौम्या सिंह ने झीना, झीना उड़ा गुलाल… गीत पर श्रोताओं को झूमने पर विवश कर दिया। समूह नृत्य में ज्योति, अंशिका एवं मानसी ने जय हो एवं वन्दे मातरम् पर भावपूर्ण प्रस्तुति दी। ऐ मेरे वतन के लोगों…गीत पर अर्पणा यादव एवं शिवांगी मिश्रा के नृत्य श्रोताओं को मोहित कर दिया। एकल गीत बेखौफ आजाद रहना मुझे….से रीतु मिश्रा ने और निशान्त दत्त मिश्र ने ऐ प्रीत जहां की रीत सदां…से श्रोताओं को गुनगुनाने को मजबूर कर दिया। समूह नृत्य में साकेत महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने हर तरफ हर जगह हो, उसी का नूर….एवं बार्डर फिल्म के गीत संदेशे आते है हमे तड़पाते है….तथा होशियार रहना नगर में चोर आयेगा की सामुहिक नृत्य पर भावुक प्रस्तुति दी। परमहंस महाविद्यालय के एन0एस0एस0 के छात्र-छात्राओं ने बालश्रम पर आधारित नाटक की प्रस्तुति कर जनसमूह का मनमोह लिया। झुनझुनवाला महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने बावरा करके तरसे नैना, नैना बनके बरसे….बोल पर समूह नृत्य प्रस्तुत कर श्रोताओं को झूमने पर मजबूर कर दिया।
सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुलपति प्रो0 मनोज दीक्षित ने छात्र-छात्राओं को उनके देश भक्ति पर उत्साह पूर्ण प्रस्तुति पर बधाई दी। प्रो0 दीक्षित ने कहा कि देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है आज छात्र-छात्राओं ने जो प्रस्तुति दी है निश्चित ही आप सफलता की ओर अग्रसर होंगे। कुलपति ने छात्र-छात्राओं से कहा कि अन्य क्षेत्र में भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते है और अपनी अलग पहचान बना सकते है। उन्होंने बताया कि आज के दिन ही विश्वविद्यालय का एक छात्र राजपथ पर परेड में शामिल होकर विश्वविद्यालय का नाम रोशन कर रहा है। आज हम संकल्प ले कि हम सभी एक साथ मिलकर विश्वविद्यालय का नाम रोशन करे एवं छवि को बनाये रखे।
सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत मॉ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ0 शैलेन्द्र कुमार ने किया। इस अवसर पर प्रति कुलपति प्रो0 एस0 एन0 शुक्ल, मुख्य नियंता प्रो0 आर0एन0 राय, प्रो0 अशोक शुक्ल, प्रो0 के0 के0 वर्मा, प्रो0 आर0के0 तिवारी, प्रो0 एम0पी0 सिंह, प्रो0 हिमांशु शेखर सिंह, प्रो0 एन0के0 तिवारी, प्रो0 जसवंत सिंह, प्रो0 चयन कुमार मिश्र, प्रो0 राजीव गौड़, प्रो0 आशुतोष सिन्हा, प्रो0 एस0एस0 मिश्र, प्रो0 अनूप कुमार, डॉ0 आर0के0 सिंह, प्रो0 रमापति मिश्र, कार्यपरिषद सदस्य ओम प्रकाश सिंह, प्रो0 विनोद श्रीवास्तव, डॉ0 वन्दिता पाण्डेय, डॉ0 नीलम सिंह, डॉ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, डॉ0 सुरेन्द्र मिश्र, डॉ0 विनोद चौधरी, डॉ0 शैलेन्द्र वर्मा, डॉ0 प्रियंका श्रीवास्तव, डॉ0 अनिल कुमार, डॉ0 शशि सिंह, डॉ0 सुधीर श्रीवास्तव, डॉ0 विनय मिश्र, डॉ0 नरेश चौधरी, डॉ0 आर0एन0 पाण्डेय, डॉ0 त्रिलोकी यादव, डॉ0 अनुराग पाण्डेय, डॉ0 बृजेश यादव, इं0 विनीत सिंह, इं0 पारितोष त्रिपाठी, कर्मचारी संघ के अध्यक्ष डॉ0 राजेश सिंह सहित अन्य शिक्षक, कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति रही।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

गणतंत्र दिवस पर एनसीसी कैडेटों ने दी सलामी

एशिया की सबसे बड़ी संगीत अकादमी के लिए कुलपति ने किया भूमि पूजन