विद्युत पोल को लेकर दो पक्ष हुए आमने-सामने

जबरन पोल गाड़ रहे कर्मचारी हो गये रफ्फूचक्कर

रूदौली। विद्युत विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत से मवई थाना क्षेत्र के पूरे सुखनंदन मजरे बड़ेला गांव में जबरन खेत मे विद्युत पोल गाड़ने के विवाद को लेकर दो पक्ष आमने सामने आ गए। विवाद की स्थित बिगड़ती देख जबरन पोल गाड़ रहे कर्मचारी रफ्फूचक्कर हो गए। पीड़ित ने पूरे मामले की शिकायत उच्च अधिकारियों से की है।
जानकारी के मुताबिक सहज राम पुत्र राम लखन पूरे सुखनंदन मजरे बड़ेला के मूल निवासी के खेत मे पहले से 7.5 एचपी का समर्सिबल लगा है।आरोप है कि जिसमे से रामनेवाज पुत्र सुरजदीन निवासी पूरे खरगी मजरे भैसौली जबरदस्ती विद्युत विभाग के कर्मचारियो से मिलकर टयूबवेल कनेक्शन लेने की फिराक में है।सहजराम ने बताया कि जबरन पोल गाड़ रहे थे तो उन्हें मना किया गया लेकिन वे बताते हैं कि हमारी 205 मीटर की लाइन पास है परंतु मौके पर 6 पोल जबर्दस्ती गाड रखा है।जबकि 205 मीटर की लाइन में महज 2 पोल लगाने चाहिए।बताया कि जब जेई बाबा बाजार श्रवण प्रसाद को इस सम्बंध मे कई बार अनुरोध किया कि मौके पर चल कर जांच करने का निवेदन किया लेकिन आज तक देखने नही आए और बीते शुक्रवार को फोन करके पावर हाऊस बुलाया और जबर्दस्ती समझौता कराने की कोशिश करने लगे। समझौता न होने पर जेई और विपक्षी दल 10-12 लोगो को बुलाकर जबर्दस्ती पोल गाड दिया।बताया कि जब इस बात का विरोध किया गया तो वे लोग लाठी डंडे के साथ मारपीट पर उतारू हो गए।इस संबंध में जब बाबा बाजार जेई श्रवण कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनकी माता की म्रत्यु हो गई है इसलिए वे अवकाश पर चले गए है।वही इस बाबत एस डी ओ आर के सिंह ने बताया कि मौके पर विवाद को देखते हुए फिलहाल अभी काम रुकवा दिया गया ।

Facebook Comments
इसे भी पढ़े  यातायात के नियम प्रदान करते हैं सुगमता : विद्या सागर