डीआईजी ने बैठक कर अपराधों पर अंकुश लगाने का दिया टिप्स

कहा अभियुक्तों को कठोर दण्ड दिलाने हेतु प्रभावी पैरवी करें सुनिश्चित

फैजाबाद। पुलिस उपमहानिरीक्षक ओंकार सिंह द्वारा परिक्षेत्र के समस्त जनपदों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षकों की गोष्ठी आयोजित की गयी। गोष्ठी में डाॅ. मनोज कुमार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक फैजाबाद, अमित वर्मा पुलिस अधीक्षक सुलतानपुर, वीरेन्द्र प्रताप श्रीवास्तव पुलिस अधीक्षक बाराबंकी, संतोष कुमार मिश्रा पुलिस अधीक्षक अम्बेडकरनगर व कुन्तल किशोर पुलिस अधीक्षक अमेठी ने भाग लिया। गोष्ठी में सभी जनपदों के वरिष्ठ/पुलिस अधीक्षकों को महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगाने के निर्देश दिये गये एवं महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों की समीक्षा में यह भी निर्देश दिये गये कि इन अपराधों में त्वरित कार्यवाही करते हुए अभियुक्तों को कठोर दण्ड दिलाने हेतु प्रभावी पैरवी सुनिश्चित करें। लूट एंव छिनैती की घटनाओं को पेट्रोलिंग कर के रोकना सुनिश्चित किया जायें। शेष वांछित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी एवं जनपदों में पंजीकृत गैंग, पुरस्कार घोषित अपराधियों, माफियाओं, मादक पदार्थ, पशुक्रूरता एवं गोकसी के तस्करों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही किये जाने व बढते हुये अपराधों को रोकने के लिये जनपद के पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिये गये।
समीक्षा मे निर्देश दिये गये कि प्रत्येक अधिकारी प्रतिदिन निर्धारित समय से जनता की समस्याओं को सुनकर उनका निराकरण प्राथमिकता के आधार पर स्वयं करते हुये अधीनस्थों से भी कराना सुनिश्चित करें। महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों पर प्रभावी अंकुश लगायें।, आगामी 02 माह में पड़ने वाले त्यौहारों/मेलांे के सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।, अनावरण हेतु शेष अपराधों-हत्या/डकैती/लूट के सफल अनावरण हेतु स्वयं के पर्यवेक्षण में क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में टीम गठित कर अनावरण कराया जाये।, पुरस्कार घोषित अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी/थानाप्रभारी की टीम गठित कर कार्यवाही करायी जाये।, अपर पुलिस महानिदेशक, लखनऊ जोन, लखनऊ द्वारा चलाये जा रहे एण्टी रोमियो व अन्य अभियानों की समीक्षा की गयी।, एच0सी0एम0एस0 साफ्टवेयर के अन्तर्गत विशेष अपराधों की फींडिंग तथा आरोप पत्र एवं अन्तिम रिपोर्ट अद्यावधिक कराये जाने सम्बन्धी आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

इसे भी पढ़े  एसएसपी का व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर जेल अधीक्षक को धमकाया

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More