The news is by your side.

श्रीराम के जीवनवृत्त से सम्बंधित स्केचिंग का कार्य प्रारम्भ

– अवध विवि में आयोजित कार्यशाला का दूसरा दिन

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के फाईन आर्ट्स तथा अर्थशास्त्र एवं ग्रामीण विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान मे अयोध्या के सौन्दर्यीकरण से सम्बंधित चल रही ’’राष्ट्रीय ऑयल पेन्टिग कार्यशाला’’ के दूसरे दिन शुक्रवार को प्रतिभागियों ने कार्यशाला की संयोजिका डॉ0 सरिता द्विवेदी के निर्देशन में ’’भगवान श्रीराम के जीवनवृत्त से सम्बंधित स्केचिंग का कार्य’’ प्रारम्भ किया गया। प्रभू श्रीराम के विभिन्न स्वरुपों से सम्बंधित अयोध्या की दीवारों पर बनने वाले चित्रों का खाका खींचा गया। चित्रण कार्यशाला की संयोजिका फाईन आर्ट्स संस्थान की सहायक आचार्य डॉ0 सरिता द्विवेदी ने बताया की स्केचिंग के द्वारा चित्र का प्रारम्भिक स्वरूप तैयार कर उसे अयोध्या की दीवारों पर वृहद रूप में उतारा जायेगा जो लोककला से उत्प्रेरित मनमोहक एवं रोमांचकारी होगा। चित्रण कार्यशाला में छात्र-छात्राओं की पाँच टीमों के द्वारा चरणबद्ध तरीके से कलात्मक आउटलाइन के साथ भित्ति चित्रण का कार्य किया जाएगा। फाइन आर्ट्स विभाग के समन्यवक प्रो0 विनोद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि उत्तर-प्रदेश शासन की मनशा के अनुरुप विश्वविद्यालय प्रशासन एवं कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह के कुशल निर्देशन में पेन्टिग कार्यशाला निश्चित रुप से अयोध्या में कलात्मक सौंदर्य को नई उँचाई प्रदान करेगी।

Advertisements

कार्यशाला में प्रतिभाग कर रहे छात्र-छात्राओं में मानसी श्रीवास्तव, सुनिधी उपाध्याय, वैष्णवी मौर्या, अरीबा खान, आनन्द कुमार वर्मा, विवेक तिवारी, रिश्ति शुक्ला, अंशिका सिंह, रुपाली गुप्ता, मोनिका सिंह, जान्हवी जयसवाल, साक्षी पाल, प्रेम लता, सत्यम गुप्ता, अभिषेक पटेल, बृजेश कौशल, विमल सिंह, कविता कुमारी, अकांशा चौधरी, करिश्मा, दीपा आदि ने हिस्सा लिया। कार्यशाला के दौरान विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागो शिक्षक, कर्मचारियों में विजय कुमार शुक्ला, कुशाग्र पाण्डेय, शिव शंकर यादव उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़े  उत्तर प्रदेश की 80 सीटें जीत रही है भाजपा : केशव प्रसाद मौर्या

कुलपति की अध्यक्षता में कार्यपरिषद की बैठक सम्पन्न

अयोध्या। डॉ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कौटिल्य प्रशासनिक भवन में शनिवार को कुलपति प्रो0 रविशंकर सिंह की अध्यक्षता में कार्यपरिषद की बैठक हुई। बैठक में स्ववित्तपोषित योजनान्तर्गत संचालित पाठ्यक्रमों में संविदा शिक्षकों के रिक्त पदों के सापेक्ष जैव तकनीकी, समाजशास्त्र, जैवरसायन, वनस्पति विज्ञान, जन्तु विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान महिला अध्ययन, एम०बी०ए० वित्त, बी०बी०ए० जनसंचार एवं पत्रकारिता, समाजकार्य, फाइन आर्ट्स, भूगर्भ शास्त्र, भू-भौतिकी, भूगोल, हिन्दी भाषा, भोजपुरी भाषा, अवधी भाषा, राष्ट्रीय एकात्मकता, डॉ० राममनोहर लोहिया अध्ययन केन्द्र, यौगिक विज्ञान, दर्शनशास्त्र एवं धर्म, कम्प्यूटर साइन्स तथा कम्प्यूटर एप्लीकेशन विषयों हेतु सम्पन्न चयन समिति की संस्तुतियों का अनुमोदन किया गया।

बैठक में प्रो0 नीलम पाठक जैव रसायन विज्ञान विभाग, डॉ0 अनूप कुमार निदेशक प्रौढ़ सतत एवं प्रसार शिक्षा, डॉ0 सुरेन्द्र मिश्र, सहायक निदेशक प्रौढ़ सतत एवं प्रसार शिक्षा की परिवीक्षा अवधि समाप्ति के पश्चात स्थायीकरण से परिषद् को संसूचित किया गया। बैठक में कुशाग्र पाण्डेय पुत्र स्व० धीरज कुमार पाण्डेय एवं श्रीमती शिल्पी श्रीवास्तव पत्नी स्व० रोहित श्रीवास्तव की नियुक्ति मृतक आश्रित के रूप में कनिष्ठ सहायक के पद पर किए जाने से परिषद् को संसूचित किया गया। बैठक में विश्वविद्यालय कीड़ा परिषद के पूर्व से लागू संविधान में संशोधन हेतु गठित समिति की संस्तुतियों के अनुमोदन पर विचार किया गया।

इसके साथ ही कार्यपरिषद् की गत बैठक 25 जून, 2021 की कार्यवृत्त एवं परीक्षा समिति की बैठक दिनाँक 6 जुलाई, 2021 की कार्यवृत्त की पुष्टि की गई। बैठक में वित्त समिति की प्रस्तावित बैठक 26 जुलाई, 2021 की कार्यवृत्त तथा विद्यापरिषद् की बैठक 28 जुलाई, 2021 की कार्यवृत्त का अनुमोदन किया गया। बैठक की कार्यवृत्त कुलसचिव उमानाथ द्वारा पटल पर रखा गया। बैठक में प्रो० अशोक मौर्या, प्रो० आशुतोष सिन्हा, डॉ० संग्राम सिंह, डॉ० सिन्धु सिंह, डॉ० इन्दुशेखर उपाध्याय, डॉ० जगदीश सिंह, प्रो० अरविन्द कुमार मिश्रा, प्रो० गोपालनाथ, डॉ० के०के० सिंह, प्रो० रवीन्द्र नाथ खरवार, डॉ० जगवीर सिंह, वित्त अधिकारी धनन्जय सिंह उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़े  छात्राओं ने निकाली मतदाता जागरूकता रैली

 

Advertisements

Comments are closed.