The news is by your side.

आग ने मचाया तांडव, गैस सिलेंडर फटने से संपूर्ण गृहस्थी जलकर राख

16 किसानों की करीब 50बीघा पक कर तैयार गेहूं की फसल जली

कुमारगंज। थाना क्षेत्र में शुक्रवार को आग ने खूब तांडव मचाया। एक तरफ भटपुरा गांव में खाना बनाते समय गैस सिलेंडर फटने से एक घर की संपूर्ण गृहस्थी जलकर राख हो गई वही दूसरी तरफ ग्राम सभा अकमा में गेहूं के खेत में आग लग गई और देखते ही देखते सोलह किसानों का करीब 50बीघा पक कर तैयार गेहूं की फसल जल गई। क्षेत्र के बहादुरगंज के पास ग्राम सभा कटघरा भटपुरा गोपालपुर में कुमारगंज खंडासा मार्ग के बगल स्थित संजू देवी पत्नी राम सजीवन का मकान है। बताया गया की संजू देवी दोपहर को गैस सिलेंडर से खाना बना रही थी और अचानक सिलेंडर में आग लग गई ।

Advertisements

घर के बाहर निकल कर जबतक संजू देवी ने चीख पुकार कर आस पास के लोगो को बुलाना चाहा तब तक गैस सिलेंडर फट गया और पूरा मकान धूं धू कर जलने लगा। गनीमत रही कि किसी प्रकार की जनहानि नही हुई । हालांकि संजू देवी की पूरी गृहस्थी जलकर राख हो गई।घटना की खबर सुनते ही प्रभारी निरीक्षक कुमारगंज शिवबालक,उपनिरीक्षक अभिषेकसिंह, सिपाही विजय कुमार गुप्ता व अन्य हमराही सिपाहियो के साथ गांव पहुंचे और गांव वालो की मदद से आग को पूरी तरह से बुझवाया।वही दूसरी ओर थाना क्षेत्र के ग्राम सभा अकमा पश्चिमी सिवान के गेहूं की फसल में आग लग गई।

घटना की खबर मिलते ही थाना कुमारगंज के उपनिरीक्षक अभिषेक सिंह व शंकरलाल यादव सिपाहियो के साथ गांव पहुंचे और फायर विभाग को सूचना देते हुए गांव वालों के साथ आग बुझाने की कोशिश की लेकिन तेज हवा के कारण आग ने विकराल रूप ले लिया और गांव के पूर्वी तरफ करीब पांच सौ मीटर की लंबाई तक पहुंच गई । जब तक फायर विभाग की टीम गांव पहुंची तब तक श्यामलाल पुत्र महिपाल, आदित्य सिंह पुत्र चंद्रनाथ सिंह, धनपता पत्नी शिवराम, रामकेवल पुत्र रघुनाथ, जगराम पुत्र भगवती, जगजीवन पुत्र राम निधि, जगनरायन सिंह पुत्र परमेश्वर सिंह ,राजाराम पुत्र रामलाल, संजय पुत्र रामलाल, राम बदल, शिव बदल ,रमाकांत पुत्रगण रामअचल,केवला पत्नी रामअचल, केसरी नंदन, फतेह बहादुर, प्रदीप सिंह ,अरुण सिंह, जगजीवन सिंह व मानसिंह आदि 16 किसानों की करीब 50 बीघे की गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई। सूचना पाकर फायर विभाग से बड़ी गाड़ी लेकर पहुंचे चालक दिनेश कुमार मिश्र, फायर मैन प्रशांत दीक्षित ,विकास चंद, जयप्रताप सिंह व सत्यपाल सिंह ने आग को पूरी तरह से बुझाया। वहीं सिवान से होकर गुजरने वाली हाईटेंशन विद्युत लाइन के तार ढीले होने का अनुमान लगाया गया जिसके कारण शार्ट सर्किट से आग लगी थी।

Advertisements

Comments are closed.