The news is by your side.

संपूर्ण समाधान में डीएम के ना पहुंच पाने पर मायूस हुए फरियादी

-प्रस्तुत 222 मामलों के सापेक्ष 4 का हुआ निस्तारण, संपूर्ण समाधान दिवस में में बैठे कर्मचारी फोन में रहे व्यस्त

मिल्कीपुर। तहसील मुख्यालय मिल्कीपुर सभागार में शनिवार को संपूर्ण समाधान दिवस डीएम की अध्यक्षता में होना था। लेकिन मुख्यमंत्री के अयोध्या दौरे के कारण जिलाधिकारी नितीश कुमार सहित जनपद स्तरीय अन्य अधिकारी भी समाधान दिवस में नहीं पहुंच सके। जिसके चलते जिलाधिकारी से अपनी फरियाद कि आप लेकर पहुंचे क्षेत्र के फरियादियों को मायूस होकर बेरंग अपने घरों को लौटना पड़ गया। हालांकि संपूर्ण समाधान दिवस में क्षेत्र से 222 फरियादियों ने अपनी शिकायतें पेश की जिनमें से मात्र 4 मामलों का ही मौके पर निस्तारण हो सका।

Advertisements

जिलाधिकारी के मिल्कीपुर संपूर्ण समाधान दिवस में ना पहुंच पाने के चलते तहसील सभागार में मौजूद अधिकारियों में रामराज छाया रहा। उच्चाधिकारियों के न आने से जो अधिकारी आए भी थे उनमें अधिकांश समय से पहले ही खिसक लिए। जो बैठे भी थे वह अपने मोबाइल फोन में फेसबुक, व्हाट्सएप, मइंस्टाग्राम में व्यस्त नजर आए। समाधान दिवस में तहसीलदार पवन कुमार गुप्ता, उपनिदेशक कृषि डॉ संजय कुमार त्रिपाठी, बीडीओ मिल्कीपुर ए के सिंह, हैरिंग्टनगंज अनीश मणि पाण्डेय ने फरियादियों की समस्याएं सुनी।

कुमारगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत तेंधा गांव निवासी महिला अनुराधा पाठक ने अपने पति के नाम आवंटित पट्टे की धुन में बने शौचालय एवं टिन सेड पर गांव के ही एक दबंग और मन बढ़ व्यक्ति गुरशरण यादव द्वारा अवैध कब्जा किए जाने की शिकायत की। इनायत नगर थाना क्षेत्र के घुरेहटा पूरे दरियावां निवासी राम सुंदर शर्मा ने शिकायत की कि मेरा बेटा बीते 25 जून को अपनी बुआ के यहां से घर आ रहा था रास्ते से लापता हो गया, अभी तक कोई पता नहीं लग सका। खंडासा गांव निवासी रामचंद्र तिवारी का कहना है कि एक वर्ष से हम तहसील दिवस, मुख्यमंत्री दरबार का चक्कर लगा रहे हैं, गांव के झब्बू साहू ने चकमार्ग पर अबैध निर्माण कर कमरा बना लिया है जिसे अभी तक हटवाया नहीं जा सका है। क्षेत्रीय लेखपाल, कानूनगो द्वारा झूठी रिपोर्ट लगाई जा रही है।

इसे भी पढ़े  ट्रैक्टर-ट्राली के नीचे दबकर चालक की दर्दनाक मौत

सभागार में मौजूद अधिकारियों को संबोधित करते हुए तहसीलदार पवन कुमार गुप्ता ने कहा कि कोई भी फरियादी समस्या के समाधान के उद्देश्य से ही सरकारी कार्यालयों में आता है। इसलिए जनता की समस्या का समाधान करना हम सबके लिए सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि जिन शिकायतों का मौके पर निस्तारण नहीं हो सका है, संबंधित अधिकारी स्थलीय निरीक्षण कर शिकायतों का गुणवत्ता के साथ समय अवधि के अंदर ही निस्तारण करना सुनिश्चित करें। इस मौके पर तहसील स्तरीय अधिकारी व उनके प्रतिनिधि समाधान दिवस में मौजूद रहे।

Advertisements

Comments are closed.