सुनयना के हत्यारों पर होगी सख्त कार्यवाही: अनीता सिंह

    राज्य महिला आयोग दल पीड़िता के परिजनों से मिला, दर्ज किया बयान

    Advertisement

    फैजाबाद। दरगाह बगिया रोनोपाली में किशोरी को जलाकर मार डालने की घटना को गम्भीरता से लेते हुए राज्य महिला आयोग की दो सदस्यीय टीम गांव में पहुंची और पीड़िता के परिजनों का बयान दर्ज किया। आयोग सदस्य अनीता सिंह ने कहा कि सुनयना के हत्यारों पर सख्त कार्यवाही की जायेगी जिससे भविष्य में इस तरह की वारदात अंजाम करने का साहस कोई और न कर पाये।
    राज्य महिला आयोग की सदस्य अनीता सिंह व इन्द्रवास सिंह भाजपा नेत्री अशोका द्विवेदी के साथ दरगाह बगिया रानोपाली स्थित पीड़िता के घर गयीं और मृतका की मां मंजू यादव, बड़ी बहने सरिता यादव व कविता यादव से मिलकर पूरे घटना की जानकारी प्राप्त किया। आयोग के दल ने ग्रामीणों से वार्ता करना चाहा परन्तु गांव वालों के विरोध के कारण सम्भव नहीं हो पाया।
    मृतका सुनायना की बहन सरिता यादव ने बताया कि आयोग के दल ने मां और मुझसे तथा मेरी छोटी बहन से घटना की जानकारी लिया। हमने उन्हें बताया कि मेरी 14 वर्षीय बहन सुनयना यादव के साथ 25 अप्रैल को गांव के करिया और अमरनाथ ने छेड़खानी किया था तथा उसके कपड़े फाड़ डाले थे। इस मामले की रिर्पोट अयोध्या कोतवाली में दर्ज करायी थी पुलिस ने दोनो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। 11 जुलाई को जमानत पर दोनो छूटे और परिवार सहित हम लोगों को बर्बाद करने की धमकिया देने लगे। 14 जुलाई को करिया, अमरनाथ के घर के सभी लोग जिनमें तीन महिलाएं भी शामिल थीं लाठी डण्डा और गुम्मा लेकर हमलावर हो गये। घटना की तत्काल जानकारी डायल-100 पुलिस को दी गयी पुलिस के आते ही हमलावर भाग गये। यह भी बताया कि इसके बार पुलिस के साथ वह और उसकी बहन कविता और मां मजू यादव रिर्पोट लिखवाने के लिए कोतवाली के लिए चले इसी समय विपक्षियों ने उसके घर पर धावा बोल दिया और घर में अकेली बची सुनायना पर मिट्टी का तेल डालकर जला डाला। अभी वह कोतवाली पहुंचे ही नहीं थे तभी घटना की सूचना मिली वह वापस लौटे और गम्भीर जली हुई अवस्था मंे सुनयना को पाया। उसे अस्पताल लाया गया जहां से लखनऊ भेज दिया गया जहां उसकी मौत हो गयी।