The news is by your side.

दिव्य दीपोत्सव-2023 के अवसर पर विशेष डाक आवरण जारी

– राम की पैड़ी पर जारी किया गया दिव्य दीपोत्सव विशेष डाक आवरण व विरूपण

अयोध्या। लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल विवेक कुमार दक्ष तथा निदेशक डाक सेवायें आनन्द कुमार सिंह ने कुलपति डॉ प्रतिभा गोयल तथा कुलसचिव डॉ अंजनी कुमार पाण्डेय ने विशेष आवरण का विरूपण किया। प्रवर अधीक्षक डाकघर श्री एच के यादव, नोडल अधिकारी सत्यशरण मिश्रा, मुख्य विपणन अधिकारी सत्येन्द्र प्रताप सिंह भी मौजूद रहे।

Advertisements

इस विशेष आवरण का विमोचन राम की पैड़ी पर पोस्टमास्टर जनरल, निदेशक डाक सेवायें, कुलपति, कुलसचिव तथा प्रवर अधीक्षक डाकघर के द्वारा जारी किया गया । यह विशेष आवरण भारतीय डाक विभाग और डॉ राम मनोहर लोहिया विश्विद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में जारी किया गया।

लखनऊ मुख्यालय के पोस्टमास्टर जनरल श्री विवेक कुमार दक्ष ने बताया कि दिव्यदीपोत्सव 2023 पर जारी किए गए विशेष आवरण पर अयोध्या में दीपावली की पूर्व-संध्या पर भव्य दीपोत्सव का आयोजन त्रेता-युग के उन जीवन-मूल्यों, लोक-आस्थाओं और प्राचीन धर्म-संस्कृति के सारवान तत्वों की जीवंत पुनर्स्थापना है जो हमारी भारतीय चेतना परम्परा के अजस्र प्रवाह व उसकी प्राणमयता को व्यंजित करती है।

भगवान राम का विग्रह सनातन भारतीय जीवन-परम्परा की संश्लिष्टता व लोकजीवन में उसकी अर्थच्छवियों को समेटने वाला सर्वाधिक महत्वपूर्ण उपादान है । इस दौरान निदेशक आनन्द कुमार सिंह ने बताया कि दिव्यदीपोत्सव के विशेष आवरण से देश विदेश के पर्यटक अयोध्या दर्शन करने को बढ़ावा मिलेगा । प्रवर अधीक्षक डाकघर श्री यादव ने बताया कि विशेष आवरण का मूल्य रु. 25/- रखा गया है तथा ये फिलेटलिक ब्यूरो के माध्यम से बिक्री किये जायेंगे।

इसे भी पढ़े  कांग्रेस जिला महासचिव, सचिव समेत सैकड़ों लोगों ने थामा भाजपा का दामन

इस दौरान कुलपति प्रो गोयल ने बताया कि राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा के पूर्व यह दीपोत्सव और खास है विश्विद्यालय अयोध्या की संस्कृति धरोहर को विश्व पटल पर लाने के लिए हमेशा तत्पर है इसी क्रम में आज लगभग 21.00 लाख से अधिक दीपक प्रज्वलित करके विश्व गिनीज़ बुक में अपने ही लिखे गए इतिहास को तोड़ रहा है । इस दौरान राम नेवाज महाविद्यालय के प्रबंधक मनीष सिंह, जितेन्द्र सिंह, जयशंकर प्रसाद वर्मा मौजूद रहे ।

Advertisements

Comments are closed.