The news is by your side.

सपा मुखिया को इलाहाबाद जाने से रोंकना अलोकतांत्रित : पवन पाण्डेय

छात्र व युवा 2019 में उखाड़ फेकेंगे भाजपा सरकार

अयोध्या। समाजवादी पार्टी के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इलाहाबाद जाने से रोंकना अलोकतांत्रित है। जिस तरह अमौसी एयरपोर्ट पर योगी सरकार ने सपा मुखिया को रोंका उससे छात्रों और युवाओं में आक्रोश है। छात्र और युवा 2019 चुनाव में भाजपा सरकार को उंखाड़ फेंकेगे। यह विचार शाने अवध सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता में सपा के पूर्व राज्यमंत्री तेजनारायण पाण्डेय पवन ने व्यक्त किया।
उन्होंने कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव बीते दिनों हुआ जिसमें समाजवादी छात्रसभा के प्रत्याशी उदय यादव भारी मतों से अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किये गये यही नहीं तमाम छात्रसंघ पदों पर भाजपा उम्मीदवारों को पछाड़ते हुए सपा उम्मीदवारों से जीत दर्ज की। इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष उदय यादव ने एक कार्यक्रम आयोजित किया था जिसमें सपा मुखिया अखिलेश यादव को मुख्य अतिथि बनाया गया था। सपा मुखिया जब कार्यक्रम में भाग लेने के लिए अमौसी एयरपोर्ट पहुंचे तो योगी सरकार के इशारे पर उन्हें इलाहाबाद जाने से रोंक दिया गया। उन्होंने कहा कि राजनीति की पहली पाठशाला छात्रसंघ होती है जिसमें किसाना और आम वर्ग के लोग राजनीति से प्रशिक्षित होकर संसदीय राजनीति तक पहुंचते हैं। समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव जब मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने छात्रों और युवाओं के हित मे तमाम योजनाओं का संचालन किया। छात्राओं को साइकिल, लैपटॉप के अलावां शिक्षा के लिए वजीफा देना का भी प्रावधान किया। भाजपा सरकार के आते ही सपा शासन द्वारा छात्र हित में चलायी गयी सभी योजनाओं को बंद कर दिया गया जिससे छात्रों में आक्रोश होना स्वाभाविक है। छात्रों और युवाओं के रूझान समाजवादी पार्टी की ओर है जिससे योगी और मोदी सरकार भयभीत है। मै मुख्यमंत्री से पूंछना चाहता हूं कि यदि सपा मुखिया छात्रसंघ के आयोजन में शामिल होते तो कौन सी अराजकता पैदा होती। जैसा की सीएम योगी ने अपने बयान में कहा है कि सपा मुखिया के इलाहाबाद जाने से अराजकता का माहौल पैदा होता। इस मौके पर सपा जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव, प्रवक्ता ओम प्रकाश ओमी, छोटेलाल यादव आदि भी मौजूद थे।

Advertisements
Advertisements

Comments are closed.