The news is by your side.

खून के लिए भटक रहे परिवार का सहारा बने समाजसेवी राजन पांडेय

-समाजसेवी ने अपने बेटों अमित व अर्पित से कराया रक्तदान

अयोध्या। मेडिकल कॉलेज में गंभीर बीमारी से ग्रसित एक गरीब बच्ची को दो यूनिट खून की जरूरत थी जिसके लिए परिवार अनेक कोशिश करने के बावजूद खून की व्यवस्था नहीं कर सका अतः परिवार थक हार कर समाजसेवी राजन पांडेय को फोन पर सारी स्थितियों के बारे में अवगत कराया।

Advertisements

जिसपर समाजसेवी राजन ने विभिन्न लोगों के माध्यम से खून दिलाने का भरसक प्रयास किया परंतु करोना महामारी को देखते हुए कोई भी तैयार नहीं हुआ तो उन्होंने अपने दो पुत्र अमित और अर्पित जो कि लखनऊ में रहकर सिविल सेवा की तैयारी करते हैं उनको मौके पर भेजकर एक-एक यूनिट रक्त दिलाया और गरीब परिवार को आर्थिक सहायता करते हुए आगे भी हर यथासंभव मदद का आश्वासन दिया।

समाजसेवी ने कहा कि यदि आपके खून देने से किसी व्यक्ति की जान बचती है तो जरूर बचाइए क्योंकि खून दोबारा शरीर में बन जाएगा परंतु यदि व्यक्ति की जान चली गई तो वापस नहीं आएगी।

Advertisements
इसे भी पढ़े  अयोध्या की धार्मिक, ऐतिहासिक सांस्कृतिक विरासतों का हो संरक्षण

Comments are closed.