गांधी प्रतिमा के सामने वामदलों ने किया सत्याग्रह

0

बदहाल कानून व्यवस्था पर सीएम योगी से मांगा इस्तीफा

फैजाबाद। लखनऊ में एपल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की पुलिस द्वारा हत्या और योगी सरकार के एनकाउंटर राज के खिलाफ तथा पुलिसिया गुंडागर्दी व प्रदेश में बदहाल कानून व्यवस्था को लेकर वामदलों द्वारा शहर के गांधीपार्क स्थिति गांधी प्रतिमा के सामने एक दिवसीय सत्याग्रह का आयोजन किया गया। सत्याग्रह स्थल पर हुई सभा को संबोधित करते हुये भाकपा के प्रांतीय नेता कामरेड अशोक तिवारी ने आरोप लगाया कि अब तक प्रदेश में कमजोर तवको के एनकाउंटर किये जा रहे थे और योगी सरकार अपनी पीठ थपथपा रही थी तथा पुलिसजनों को महिमा मंडित कर रही थी इससे बढ़े मनोवल वाली पुलिस ने राजधानी में जघन्य हत्याकांड कर डाला।इसकी नैतिक जिम्मेदारी लेते हुये मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।भाकपा माले के जिलाप्रभारी कामरेड अतीक अहमद ने कहा कि न गुंडाराज न भ्रष्ट्राचार का नारा देकर सत्ता में आई योगी सरकार में कानून व्यवस्था कायम करने के नाम पर पुलिस को गुंडई करने व निर्दोष लोगों की हत्या करने का लाइसेंस दे दिया।
जनौस के प्रदेश उपाध्यक्ष कामरेड सत्यभान सिंह जनवादी ने कहा कि प्रदेश में 70 से अधिक लोगों को फर्जी एनकाउंटर में मौत के घाट उतार दिया इसी अभियान के एक कड़ी के रूप में विवेक तिवारी की हत्या की गई।ऐसी स्थिति में योगी सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नही है। उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता भाकपा जिलामंत्री कामरेड रामतीर्थ पाठक व माकपा जिलामंत्री कामरेड माताबदल ने की तथा संचालन भाकपा माले नेता कामरेड उमाकांत विश्कर्मा ने किया।
सत्याग्रह के माध्यम से राष्ट्रपति को संबोधित 6 सूत्रीय मांग पत्र मजिस्ट्रेट को सौपा गया। सत्याग्रह स्थल पर उपस्थित जनसमुदाय को कामरेड जनौस जिलाप्रभारी विश्वजित सिंह राजू,सूर्यकांत पांडेय,माकपा के पूर्व जिला सचिव कामरेड मोहम्द इश्काक,कामरेड अयोध्या प्रसाद तिवारी,अफाक उलाह, कामरेड सीताराम वर्मा,रामजीराम यादव,कामरेड अशोक यादव,जनौस जिलाध्यक्ष कामरेड धीरज द्विवेदी,माकपा नागरमहासचिव कामरेड रामजी तिवारी,जनौस नेता कामरेड पूजा शर्मा, ओंकार नाथ पांडेय आदि ने संबोधित किया। सत्याग्रह में प्रमुख रूप से माकपा नेता कामरेड रेशमाबानो, कामरेड पंचराम भारती, कामरेड कोमल,कामरेड प्रियंका,कामरेड रितिक गौतम,कामरेड रितिक शर्मा,कामरेड माधुरी,कामरेड शिवकुमार श्रीवास्तव पल्लन आदि शामिल थे।

इसे भी पढ़े  33 वैकल्पिक स्थानो पर दुर्गा प्रतिमा स्थापना की मांगी अनुमति

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: