The news is by your side.

कोविड रोकथाम के कार्यों की हुई समीक्षा

-निगरानी समितियों को पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट की उपलब्धता कराने का निर्देश

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में कोविड-19 पर प्रभावी रोकथाम हेतु रैपिड रिस्पांस टीमों व निगरानी समितियों द्वारा घर-घर भ्रमण कर किए जा रहे ट्रेसिंग, टेस्टिंग एवं ट्रीटमेंट संबंधी कार्यों व कोविड पर रोकथाम हेतु किए जा रहे समस्त कार्यों की गहन समीक्षा की।

Advertisements

इस दौरान उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को समस्त एम.ओ.आई.सी. को व उनके माध्यम से समस्त निगरानी समितियों, आशा संगनियों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को पर्याप्त संख्या में मेडिसिन किट की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। जिससे गांव में घर-घर भ्रमण के दौरान किसी भी व्यक्ति में कोविड के लक्षण पाए जाने पर उसे आशा, आगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा तत्काल किट उपलब्ध कराया जा सके।

इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने समस्त सी.डी.पी.ओ. व एम.ओ.आई.सी. को रैपिड रिस्पांस टीमों द्वारा हाउस टू हाउस टेस्टिंग एवं आशा संगिनियों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा लक्षणयुक्त व्यक्तियों को मेडिसिन किट वितरण कार्य की नियमित निगरानी करने व उक्त कार्यों को सुचारू रूप से क्रियान्वित कराने के भी निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड-19 वायरस के प्रसार को रोकने व उस पर प्रभावी रोकथाम हेतु घर-घर जाकर प्रत्येक लक्षण युक्त व्यक्ति की ट्रेसिंग, टेस्टिंग व ट्रीटमेंट का कार्य बहुत ही महत्वपूर्ण है। जिसके दृष्टिगत जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों, खंड विकास अधिकारियों व सी.डी.पी.ओ. को रैपिड रिस्पांस टीमों के साथ टेस्टिंग टीमों द्वारा घर-घर जाकर किए जा रहे कोविड टेस्टिंग के कार्यों में पूर्ण सहयोग करने तथा संबंधित कानूनगो, लेखपाल व ग्राम पंचायत सचिव आदि को आशा संगिनियों के साथ गांव में घर-घर जाकर लोगों को प्रोत्साहित करने तथा निगरानी समिति के द्वारा किए जा रहे कार्यों में पूर्ण सहयोग के निर्देश दिए।

इसे भी पढ़े  बिजली तार में उलझकर युवक की मौत

जिलाधिकारी ने जनपद में वैक्सीनेशन की स्थिति के साथ-साथ कोविड से संक्रमित मरीजों को उपलब्ध कराई जा रही चिकित्सीय सुविधाओं आज की भी समीक्षा की। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कोविड पॉजिटिविटी घर में कमी आई है किंतु अभी भी सभी को विशेष सतर्कता व सावधानी बरतने की आवश्यकता है किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी है। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को अपने-अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों को गंभीरता के साथ निर्वहन करते रहने को कहा। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री शैलेश कुमार पांडेय, मुख्य विकास अधिकारी अनीता यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह सहित कंट्रोल रूम में तैनात अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.