The news is by your side.

भव्य राम मंदिर में 22 जनवरी को विराजेंगे रामलला

-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भेजा गया निमंत्रण

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि पर बन रहे भव्य मन्दिर में 22 जनवरी 2024 को रामलला विराजेंगे। 15 जनवरी से मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह शुरू होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस कार्यक्रम के लिए निमंत्रण दिया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक समारोह के अंतिम दिन यानी 22 जनवरी को पीएम मोदी की मौजूदगी में राम मंदिर में रामलला को विराजमान किया जाएगा। शनिवार को राम मंदिर से जुड़ी भवन निर्माण समिति की दूसरे दिन की बैठक में इन सभी बातों पर चर्चा हुई।

Advertisements

बताया जा रहा है कि ट्रस्ट ने 22, 23 और 24 जनवरी की तिथि पीएमओ कार्यालय भेजी है, लेकिन अभी कोई निर्णय प्राप्त नहीं हुआ है। हालांकि ट्रस्ट 22 जनवरी को लेकर अपनी तैयारियां कर रहा है। वहीं जानकारी के मुताबिक राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के लिए एक सप्ताह का अनुष्ठान किया जाएगा । जिसके लिए 16 से 22 जनवरी की तिथि तय की जा रही है। जिसे काशी, अयोध्या और दक्षिण के वैदिक विद्वान विधि विधान पूर्वक पूरा करेंगे।

जिसको लेकर शनिवार को मंदिर निर्माण समिति की बैठक के साथ-साथ विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय पदाधिकारियों की भी बैठकों का दौरा शुरू हो गया है। जो 11 सितंबर तक चलेगी। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद के अखिल भारतीय पदाधिकारियों में महामंत्री, संयुक्त महामंत्री, केंद्रीय मंत्री, केंद्रीय सहमंत्री, क्षेत्रीय मंत्री और क्षेत्रीय संगठन मंत्री की महत्वपूर्ण टोली तीन दिन के लिए अयोध्या आ रही है। उसकी बैठक 10 और 11 सितंबर को होगी। बताया कि प्राप्त प्रतिष्ठा के दौरान देश का वातावरण राममय बनाए जाने की योजना पर मंथ न कर तैयारी की जा रही। वहीं राम मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक के अंतिम दिन शनिवार को मंदिर के उन कार्य योजनाओं पर मंथन किया गया जो प्राण प्रतिष्ठा से पहले पूरी की जानी है।

इसे भी पढ़े  जगत का कल्याण हो यज्ञ का यही है उद्देश्य : महंत परशुराम दास

बैठक से पहले सुबह लगभग 9 बजे मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृर्पेंद्र मिश्र अयोध्या के मंडलायुक्त गौरव दयाल, आईजी प्रवीण कुमार, जिलाधिकारी नितीश कुमार व एसएसपी राजकरण नय्यर सहित अन्य अधिकारियों के साथ निमार्णाधीन जन्मभूमि पथ का निरीक्षण किया। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि नृपेंद्र मिश्रा के निर्देशन में हो रही भवन निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक आज पूरी हो गई। कहा कि मकर संक्रांति 2024 तक निर्माण कार्य का हम कितना हिस्सा पूरा कर सकते हैं, इन बिंदुओं की चर्चा आज बैठक में हुई। बैठक में ट्रस्ट के सदस्य डॉ.अनिल मिश्रा और गोपालजी मौजूद रहे। निर्माण कर रही संस्था का काम तकनीकी चिंतन करना है और हमारा काम देश की वातावरण को सकारात्मक और राममय बनाने का विचार है।

Advertisements

Comments are closed.