The news is by your side.

155 देशों की नदियों के जल से होगा राम मंदिर का अभिषेक

-रक्षामंत्री व योग गुरु रामेदव भी रहेंगे मौजूद

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि पर बन रहे भव्य मंदिर में पाकिस्तान, चीन, यूक्रेन, ईरान व अमेरिका सहित अरब देशों की भी पवित्र नदियों के जल को 23 अप्रैल को समर्पित किया जाएगा। 155 देशों के जल को समर्पित करने के मौके पर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और योग गुरु रामदेव भी पहुंचेंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि 5 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा मंदिर निर्माण की आधारशिला रखे जाने के बाद देश भर से लगभग 1000 स्थानों से जल और रज लाकर अर्पित किया गया था। इस दौरान दिल्ली के स्टडी ग्रुप के अध्यक्ष डॉक्टर विजय जौली के मन में विचार आया कि दुनिया के देशों से भी पवित्र जल लाया जा सकता है।

Advertisements

दुनिया भर में इनके व्यापक संबंध हैं। इन्होंने अलग-अलग स्थानों से लोगों के जरिए वहां के जल को जुटाने का कार्य शुरू किया। डॉ. विजय जौली ने कहा कि मैंने 2020 अगस्त को इसका संकल्प लिया था कि विश्व भर की नदियों और समुद्रों का जल हम भारत में एकत्रित करेंगे और उस से प्रभु श्रीराम के राम मंदिर का जलाभिषेक करेंगे। कोरोना काल के दौरान भी हमनें विश्व के 155 देशों का जल भारत लाकर एकत्रित किया। 155 देशों की नदियों से लाए गए जल पर एक वीडियो फिल्म भी बनाई गई है, जिसे 23 अप्रैल को प्रदर्शित किया जाएगा। प्रत्येक देश के जल को तांबे के लोटे में हरिद्वार की पैड़ी पर जाकर सील पैक करवाया गया है। प्रत्येक लोटे के ऊपर उस देश के नाम और उसके झंडे का स्टीकर भी लगा है।

इसे भी पढ़े  रामनवमी पर पीला वस्त्र धारण करेंगे रामलला, होगा विशेष श्रृंगार

डॉ. विनोद जौली ने बताया कि पाकिस्तान के रावी नदी से जल को मंगाया गया है, लेकिन इसके लिए पाकिस्तान हिंदू मित्रों से जल को भेजने के लिए बात की तो उन्होंने उत्पीड़न की बात उठाई और उस जल को भेजने में असमर्थता जताई, लेकिन पाकिस्तान के कुछ हिंदू मित्रों ने बड़े ही सार्थकता से पाकिस्तान के रावी नदी के जल को पाकिस्तान से पैक करके दुबई भेजा और दुबई से उसे भारत लाने में सफलता हासिल हुई। इसके साथ ही तजाकिस्तान से मुस्लिम सहयोगी ताज मोहम्मद, कनाडा के सिख भाइयों ने तिब्बत के बुद्धिस्ट मूल के सहयोगियों ने भी जल भेजने में हमारी मदद की है।

इस कार्यक्रम के दौरान राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय, विहिप के संरक्षक मंडल के सदस्य दिनेश चंद्र, संघ प्रचारक रामलाल व इंद्रेश कुमार, जैन आचार्य लोकेश, पूर्व सेनाध्यक्ष जरनल जोगिंदर जसवंत सिंह, सांसद मनोज तिवारी सहित सैकड़ों की तादाद में संभ्रांत नागरिक मौजूद होंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी इस मौके पर शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है।

Advertisements

Comments are closed.