The news is by your side.

लक्षण पाए जाने पर तत्काल उपलब्ध करायें मेडिसिन किट

-कोविड-19 संक्रमण के प्रसार पर प्रभावी रोकथाम व उपचार के कार्यों की हुई समीक्षा

अयोध्या। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने आईसीसीसी में मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती अनीता यादव व मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह सहित अन्य संबंधित चिकित्सकों/अधिकारियों के साथ जनपद में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार पर प्रभावी रोकथाम, बचाव एवं उपचार संबंधी कार्यों की समीक्षा की।

Advertisements

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने आशा के पास किट की उपलब्धता, निगरानी समितियों द्वारा ट्रेस किये गए सिंप्टोमेटिक व्यक्तियों को दवा किट उपलब्धत कराने की स्थिति के साथ ही क्रॉस चेकिंग में प्राप्त प्रतिपुष्टि की जानकारी ली तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ घनश्याम सिंह को जनपद स्तर पर प्राप्त दवा किट को कल ही सभी आशाओं में वितरित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने आशाओं को अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित भ्रमणशील रहने तथा किसी भी व्यक्ति ने सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम या अन्य कोई कोविड-19 के लक्षण पाए जाने पर तत्काल उसे मेडिसिन किट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

समीक्षा के दौरान अवगत कराया गया कि जनपद में 27 मई को 5109 व्यक्तियों की टेस्टिंग की गई थी जिलाधिकारी ने इसमें और प्रगति लाने के निर्देश दिए। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा जनपद में 45 वर्ष आयु से अधिक तथा 18 वर्ष से 45 वर्ष आयु तक के व्यक्तियों के कोविड टीकाकरण के स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने जनपद में टीकाकरण कार्य में और प्रगति लेन तथा 45 वर्ष आयु से अधिक के व्यक्तियों के टीकाकरण पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ आर0के0 देव को जनपद में वैक्सीनेशन में और प्रगति लाने हेतु रोस्टर बनाकर रोजाना प्रत्येक ब्लॉक के दो-दो ग्रामों ( रोजाना 22 ग्रामों) में वैक्सीनेशन टीमों को भेज कर 18 से 45 वर्ष तथा 45 वर्ष आयु वर्ग के व्यक्तियों का टीकाकरण कराने के निर्देश दिए।

इसे भी पढ़े  पुण्यतिथि पर याद किए गये भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू

इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा मीडिया बंधुओं, शिक्षकों सहित अन्य सरकारी विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों के टीकाकरण की तैयारियों के संबंध में जानकारी ली तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Advertisements

Comments are closed.