योजनाओं को धरातल तक पहुंचाना प्राथमिकता : ज्योति सिंह

नवागत एसडीएम ग्रहण किया पदभार

रूदौली-अयोध्या। तहसील रुदौली में उपजिलाधिकारी टीपी वर्मा का स्थानांतरण होने के बाद रविवार को नवागत एसडीएम ज्योति सिंह ने अपना पदभार संभाल लिया है।उन्होंने क़ानून व्यवस्था दुरुस्त कराने व सरकार की योजनाओं को धरातल तक पहुंचाने को अपनी प्राथमिकता बताया।
बरियारपुर देवरिया की रहने वाली एसडीएम ज्योति सिंह फेसबुक पोस्ट वायरल होने की वजह से भी काफ़ी चर्चा में रह चुकी है। जिसमें उन्होंने अपनी पहली सैलरी अपने माता पिता को गिफ्ट करने के बारे में लिखा था। साथ ही सभी पेरेंट्स से अपील की थी कि वे अपनी बेटियों को शिक्षित करें। उन्होंने फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि‘थैंक्स मम्मी-पापा कि आपने मुझे शिक्षित किया,आपका धन्यवाद इसलिए भी कि आपने मेरे नाकामयाब होने पर मेरा प्रोत्साहन किया, मझे अपना रास्ता खुद चुनने,आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने और आत्मनिर्भर बनने की आज़ादी दी। मैंने बहुत सोचा कि मैं अपनी फर्स्ट सैलरी का क्या करूं। अंत में निर्णय लिया कि अपनी सारी सैलरी आपको भेज दूं। दूसरे पेरेंट्स से मैं यही कहना चाहूंगी कि प्लीज अपनी बेटियों को एजुकेट करें।
पीसीएस में सिलेक्शन के बाद उनकी पहली पोस्टिंग बहराइच में अतिरिक्त मजिस्ट्रेट के पद पर हुई थी।उन्होंने बताया कि वह अपने गांव की पहली महिला पीसीएस हैं। वह गर्ल्स एजुकेशन को प्रमोट करना चाहती हैं। लड़कियों के पास अपना कैरियर बनाने के लिए कम समय होता है। वह जल्दी कामयाब नहीं होती हैं तो शादी का दबाव पड़ने लगता है। उन्होंने बताया कि उनके पापा स्वामी नाथ सिंह महोबा में पुलिस अधीक्षक हैं। उनके इस कदम से उनकी मां काफी खुश हैं।वह बताती हैं कि पिता की सरकारी नौकरी के कारण उन्हें अलग-अलग जगहों पर 14 स्कूलों में पढ़ाई करनी पडी थी।

इसे भी पढ़े  कुल्हाड़ी से हमलाकर चचेरे भाई ने किया मरणासन्न, लखनऊ रेफर

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More