The news is by your side.

पुलिस ने टप्पेबाज गिरोह के चार सदस्यों को किया गिरफ्तार

-छह हजार नकद व चार मोबाइल बरामद

अयोध्या। सोने की सिल्ली, मोती-माला तथा चांदी-सोने के प्राचीन सिक्के के नाम पर नगर कोतवाली क्षेत्र में हुई टप्पेबाजी की दो घटनाओं में पुलिस ने गिरोह के चार लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से छह हजार रुपये, चार मोबाइल तथा चार सोने की माला के दाने बरामद किए हैं। रौनाही थाना क्षेत्र के मीरपुर कांटे निवासी उमाशंकर मौर्य और उनकी पत्नी को मोती की माला तथा सोने की सिल्ली सस्ते में देने के नाम पर एक शख्स ने रायबरेली हाईवे स्थित दुर्गा बंसल कोल्ड स्टोरेज बुलाकर नकली मोती की माला और दो किलो से ज्यादा सोने की सिल्ली के एवज में दो लाख रुपये ठग लिया था।

Advertisements

22 जुलाई को हुई  इस घटना की रिपोर्ट 16 अगस्त को राजकुमार प्रजापति के खिलाफ दर्ज हुई थी। वहीं बीकापुर निवासी श्रीनाथ से 26 जनवरी को रोडवेज के पास महिला व अन्य ने तीन लाख रुपये ठग लिया था। जिसकी रिपोर्ट दो दिन पूर्व दर्ज हुई है।

सीओ सिटी शैलेंद्र सिंह ने बताया कि कोतवाली पुलिस ने रायबरेली जिले के जहानाबाद थाना क्षेत्र स्थित बरईहारपुर निवासी प्रेम व उसकी पत्नी रजनी तथा यहीं के शम्भू तथा नई दिल्ली के घेबड़ा शाहबदा कॉलोनी निवासी जीवन को र्साइंदाता कुटिया के पास से गिरफ्तार किया है। इनके पास से छह हजार रुपये, चार मोबाइल तथा सोने की माला के चार दाने बरामद हुए है। सभी का चालान किया गया है।

जांच के लिए देते थे मोती की माला का असली दाना व सोना-चांदी का सिक्का

-देशभर में फैले टप्पेबाजी के इस खेल में गिरोह के लोग शिकार को फंसाने के लिए खोदाई में सिक्के व सोना-चांदी तथा पुराने मंदिर से मोती की माला मिलने का झांसा देते थे। शिकार को माला का वही दाना अथवा सिक्का या सिल्ली का टुकड़ा  देते थे, जो असली हो। सर्राफ से जांच कराने के बाद शिकार फंस जाता था तो उसे नकली सोना-चांदी अथवा मोती की माला थमा माल ले फरार हो जाते थे।

इसे भी पढ़े  सुनील यादव फार्मेसिस्ट फेडरेशन के अध्यक्ष व अशोक बने महामंत्री

शिकार को भरोसे में लेने के लिए मोबाइल नंबरों का इस्तेमाल किया जाता था, लेकिन बदल-बदलकर वारदात के बाद संबंधित नंबर बंद कर देते थे। हालांकि गिरोह के चार लोग पकड़े गए हैं लेकिन दुर्गा बंसल कोल्ड स्टोरेज के पास हुई घटना में मिले सीसीटीवी फुटेज तथा एक पीड़ित के शिनाख्त में इसमें कोई भी नहीं मिला है।

Advertisements

Comments are closed.