खुले में शौच कर रहे लोगो को आचनी चाहिए शर्म

सरकारी प्रोत्साहन धनराशि मिलने के चक्कर मेें सम्पन्न लोग भी अपने घर नहीं बनवा रहे शौचालय

डीएम ने की स्वच्छता समिति की बैठक

फैजाबाद। जिला स्वच्छता समिति की बैठक में जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने कहा कि यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है कि भारत के ग्रामीण क्षेत्रो में 80 प्रतिशत बीमारी चाहे व बच्चे हो बूढ़े हो या जलन हो को खुले में मल मूत्र त्यागने से वातावरण में माइक्रो जीवाणु के फैलने से होती है और वे अपने मासिक आय का 50 से 60 प्रतिशत धनराशि उसके इलाज पर व्यय कर देते है। खुले में शौच से होने वाले अति गन्दे प्रदूषण से बच्चे बच्चे व बूढ़े ज्यादा बीमार पड़ते है। हम सभी 20वीें सदी में जी रहे और खुले में शौच कर रहे लोगो को शर्म आनी चाहिए। सरकारी प्रोत्साहन धनराशि मिलने के चक्कर मेें सम्पन्न लोग भी अपने घर शौचालय नही बनवा रहे है। कितने शर्म की बात है। उन्होनें सभी युवाओं से चाहे वे पुरूष हो या महिला आगे आ कर दूस कुप्रथा को बन्द कराने मे जिला प्रशासन का सहयोग करना चाहिए।
उन्होनें कहा कि बरसात के शुरू होेने के पहले सभी को अपने घर के निकटतम स्थल पर अच्छा सा शौचालय बनवा लेना चाहिए ताकि उनके परिवार के सदस्य विषैले जीव जन्तु से सुरक्षित रहे।
बैठक में समिति ने 5 जिला कलेक्ट्रेट, 1 लेखाकार, 8 कम्प्यूटर आपरेटर, 20 खण्ड प्ररेक कुल 37 स्टाफ के मानदेय पारिश्रमिक के रूप में 59797.00 रूपये के भुगतान ओ0डी0एफ0 वार रूम में लगे कम्प्यूटर, फोटो स्टेट मशीन आदि उपकरण की सुरक्षा हेतु दो ए0सी0 व नई 2 फोटो कापीर मशीन क्रय करने का अनुमोदन कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने ऐसे स्थलो को चिन्हित कर जहां ग्रामीण जनता अधिक आती है जैसे गांव के प्राइमरी स्कूल, ब्लाक, थाना, समुदायिक, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, लाइब्रेरी, कलेक्ट्रेट, विकास भवन के दिवाल पर स्वच्छता सम्बन्धी चित्रकारी कराये जाने हेतु समिति को निर्देश दिये ताकि ग्रामीण जनता जागरूक व मोटिव किया जा सके। सूचना विभाग के माध्यम से निर्धारित दरो पर जन जागरूकता हेतु बैनर, होर्र्डिंग्स लगाने के साथ-साथ सांस्कृतिक दलों, जादू, कठपुतली, नुक्कड नाटक के माध्यम से लोगो को प्रेरित करने के लिए समिति ने अपना अनुमोदन प्रदान किया।
मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने समिति से जनपद को खुले मंे शौच से मुक्त बनाये जाने हेतु विद्यालयों, महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं, गुरूजन व आचार्य का सहयोग लेने की अपील की। उन्होनें कहा कि इस विषय में खुले मैदान मंे विद्यालयों के सभी छात्र-छात्राओं को एक साथ बैठाकर वाद विवाद प्रतियोगिता, निबन्ध प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित कराया जाना चाहिए। बैठक राकेश कुमार गुप्ता कम्प्यूटर आपरेटर के कार्यकाल बढ़ाने तथा सेवा प्रदाता एजेन्सी के नवीनीकरण पर भी विचार हुआ।
बैठक में जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी, ए0डी0एम0 एफ0आर0 मदन चन्द दुबे, ए0डी0एम0 प्रशासन, डी0पी0आर0ओ0 सहित स्वच्छता बाररूम के दीपक सेन, राकेश सिंह, रागीनी गिरी, अवरिल पाठक, राकेश गुप्ता सहित सभी लोग उपस्थित थे। शासन से आयी सोशल डेपलपमेन्ट एक्सपर्ट नीता गोयल ने ग्राम ददेरा व मिर्जानिमोली को देखा उन्होनें ग्राम प्रधान ददेरा द्वारा बनवाये गये शौचालय की खुद तारीफ की। जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने उन्हें बताया कि ग्राम ददेरा की प्रधान इसके लिए बधाई सर्वथा पात्र है। बैठक में जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार व मुख्य विकास अधिकारी अक्षय त्रिपाठी ने सभी सेक्रेटरी को गांव को ओ0डी0एफ0 बनाने हेतु कार्यो को तेजी से कराने के टिप्स दिये।

इसे भी पढ़े  ट्रैक्टर-ट्राली की चपेट में आकर मां और मासूम की मौत

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More