The news is by your side.

एक हुंकार पर पंडित नेहरू ने लगाई गंगा नदी में छलांग : डा. निर्मल खत्री

ऑनलाइन निबंध प्रतियोगिता का वितरित किया पुरस्कार

Advertisements

अयोध्या। वर्ष 1924 में कुंभ मेले के दौरान अंग्रेजी हुकुमत द्वारा गंगा स्नान पर लगाए गए प्रतिबंध पर पंडित मदन मोहन मालवीय जी की एक हुंकार पर सैकड़ों युवाओं के साथ संगीनों की परवाह न करते हुए पंडित जवाहरलाल नेहरु ने बांस बल्लियों को फांदकर गंगा नदी में छलांग लगा दी थी। उक्त बातें निबंध प्रतियोगिता के संरक्षक, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद डॉ. निर्मल खत्री ने पंडित जवाहरलाल नेहरु की जयंती पर कमला नेहरु भवन में आयोजित निशुल्क ऑनलाइन निबंध प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण के समारोह में कहीं।
समारोह की शुरुआत पंडित जवाहरलाल नेहरु के चित्र पर डा0 निर्मल खत्री के द्वारा माल्यार्पण कर की गई। निबंध प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार प्रत्यूष शुक्ला को घ्5000 नगद राशि,पल्लवी मौर्य को द्वितीय पुरस्कार को 2000 रुपए नगद राशि,तृतीय पुरस्कार घ्1000 नगद राशि पूजा कौशल को तथा पांच सांत्वना पुरस्कार घ्500-500 नगद राशि इंद्रजीत वर्मा,सूरज कुमार, मानसी दयाल, ज्ञान प्रकाश तिवारी तथा साक्षी मिश्रा को देकर डॉ खत्री ने सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए सभी छात्र-छात्राओं के उक्त प्रतियोगिता में सराहनीय निबंध लिखने हेतु प्रशंसा किया।प्रतियोगिता के संयोजक श्रीनिवास शास्त्री ने सभी विजई प्रतिभागियों को पंडित जवाहरलाल नेहरु से संबंधित एक पुस्तक तथा प्रशस्ति पत्र भी दिया,साथ कहा कि प्रतियोगिता में सम्मिलित सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र डाक द्वारा उनके घर पर पहुंचाया जाएगा। कांग्रेस ज़िला अध्यक्ष रामदास वर्मा,प्रदेश सचिव राजेंद्र प्रताप सिंह तथा प्रभारी सुनील पाठक ने सभी प्रतिभागियों को आशीष वचन देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम में एआईसीसी सदस्य के के सिन्हा,उग्रसेन मिश्रा,पीसीसी सदस्य मोहम्मद शरीफ,बृजेश सिंह चौहान,सुनील कृष्ण गौतम,युवा कांग्रेस महानगर अध्यक्ष करन त्रिपाठी,रजनीश शर्मा,मनीष राय,युवा कांग्रेस के अध्यक्ष संजय तिवारी,बिलाल अंसारी,धर्मेंद्र शुक्ला,सुनील सोनकर,आशीष मिश्रा, ताज मोहम्मद,आदि लोग प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

Advertisements

Comments are closed.