The news is by your side.

गन्ना मूल्य घोषित न होने से किसानों में आक्रोश

-रालोद ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर शीघ्र गन्ना मूल्य घोषित करने की किया मांग

अयोध्या। गन्ना पेराई सत्र 2022 23 के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अभी तक गन्ना मूल्य न घोषित करने पर रालोद ने आक्रोश व्यक्त करते हुए किसान संदेश अभियान की शुरूआत किया आज मसौधा ब्लाक के लीलापुर गांव में कई गांव से आए दर्जनों किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम पत्र लिखकर शीघ्र गन्ना लाभकारी मूल्य घोषितकिए जाने की मांग किया है।

Advertisements

राष्ट्रीय लोकदल अवध क्षेत्र के अध्यक्ष चौधरी रामसिंह पटेल ने बताया कि राष्ट्रीय लोकदल गन्ना किसानों के साथ है 15 दिसंबर 2022 को ही राष्ट्रीय लोकदल अयोध्या ने गन्ना मूल्य घोषित कराने की मांग किया था परंतु अभी तक उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गन्ना का लाभकारी मूल्य नहीं घोषित किया गया राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह ने गन्ना किसानों की समस्या को लेकर किसान संदेश अभियान की शुरुआत की है जिसके तहत पूरे प्रदेश में एक लाख किसानों से माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ के नाम डाक विभाग व अधिकारियों के माध्यम से किसानों का पत्र भेजना है राष्ट्रीय लोकदल 3 जनवरी 2023 को जिला अधिकारी अयोध्या से मिलकर सैंकड़ों किसानों का मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र ज्ञापन में संलग्न कर दिया जाएगा

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पिछले चुनावी वर्ष 2021 के समय 26 सितंबर को ही गन्ना मूल्य घोषित कर दिया गया था परंतु इस वर्ष का गन्ना मूल्य अभी तक नहीं घोषित किया गया है जिसको लेकर यह अभियान चलाया जा रहा है जनपद में कम से कम 2000 गन्ना किसानों को पत्र भेजे जाने का लक्ष्य रखा गया है इस मौके पर मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र लिखने वालों में सूर्यनाथ वर्मा, अजय वर्मा, प्रदीप वर्मा, बाबू राम साहू, साहब बक्श सिंह, संतराम, हरिश्चंद्र वर्मा, राजेंद्र कुमार वर्मा, सियाराम, राम बहादुर वर्मा, रामकरन , इंद्रपाल ,संजय पटेल ,राम अवतार ,रामकिशन, अजय वर्मा ,जगदीश प्रसाद, जगन्नाथ पटेल, ओम प्रकाश पटेल, मनीराम कोरी, देवी शरण वर्मा, विश्वनाथ पटेल शामिल रहे।

इसे भी पढ़े  साकेत कॉलेज मे वार ट्राफी टैंक T55 भीम पुंजनोपरांत स्थापित

 

Advertisements

Comments are closed.