The news is by your side.

विपक्ष भी प्रभु राम का नाम लेने  को मजबूर : डा दिनेश शर्मा 

मंदिर निर्माण बाधा डालने वाले  तत्वों को राम भक्तों की शक्ति का अंदाजा  हो गया

अयोध्या। उपमुख्यमंत्री डा दिनेश शर्मा ने विपक्षी दलों  पर निशाना साधते हुए उनके द्वारा आयोजित किए जा रहे जाति विशेष के  सम्मेलनों को पश्चाताप सम्मेलन की संज्ञा दी है।  उनका कहना है कि इन सम्मेलनों का आयोजन करने वाले दलों ने अपनी पिछली सरकारों में  इस    जाति विशेष के  साथ केवल  दुव्र्यवहार ही  किया था  इसलिए उन्हे ऐसे सम्मेलन करने की जरूरत पडी है। उन्होंने कहा कि  प्रदेश   को जाति धर्म आदि खांचे में बांटने का विपक्षी दलों का  षडयंत्र अब जनता सफल नहीं होने देगी।  उत्तर   प्रदेश में जातिवाद सम्प्रदायवाद  भाई भतीजावाद परिवारवाद आदि का अब कोई अस्तित्व नहीं है।

Advertisements

अब यहां पर केवल मोदी  और योगी का विकासवाद ही चलेगा। इस विकासवाद की डगर पर ले जाकर  प्रदेश को मजबूत एवं सशक्त बनाना ही  भाजपा सरकार का लक्ष्य है। पत्रकारों से बात करते हुए  उन्होंने कहा कि जिस प्रकार बारिश आने के पूर्व आसमान पर पक्षी मडराने लगते हैं उसी प्रकार से कुछ राजनैतिक दल चुनाव आते ही इस प्रकार के जातिगत सम्मेलन करने लगते हैं। उन्होंने कहा कि विपक्ष ने भाजपा के खिलाफ अकेले चुनाव लडकर तथा साथ में चुनाव लडकर भी हार का ही मुह देखा  है।  इस बार यह सभी दल अगर एक होकर भी चुनाव लडें तो भी  भाजपा का सामना नहीं कर सकते हैं क्योंकि जनता भाजपा के साथ है। भाजपा के वोटर को प्रभावित करने के लिए ही विपक्ष तमाम प्रकार के छल प्रपंच करता है। जब इन्हे कोई रास्ता नहीं सूझता है तब फिर इन्हे जाति धर्म ही याद आता है। उन्होंने तंज कसते हुए पूछा कि साढे चार साल तक यह दल कहा पर थे। कोरोना के संक्रमण काल में जब भाजपा के कार्यकर्ता लोगों की मदद कर रहे थे तब भी ये दल जनता की मदद करने की जगह एसी कमरों में बैठकर केवल ट्वीट कर रहे थे।

इसे भी पढ़े  रामद्रोही और रामभक्तों के बीच बंट गया है चुनाव : योगी आदित्यनाथ

उन्होंने कहा कि  एक समय ऐसा था जब कुछ लोग प्रभु राम का नाम  भी नहीं लेते थे क्योकि उन्हे डर था कि उन पर कही  साम्प्रदायिक होने का आरोप नहीं लग जाए। उन्होंने कहा कि प्रभु राम की महिमा ऐसी निराली है कि बहुसंख्यक अल्पसंख्यक का भेद करने वाले तत्त्वों   तथा   मंदिर निर्माण बाधा डालने वाले  तत्वों को आज राम भक्तों की शक्ति का अंदाजा  हो गया है। आज विपक्ष भी प्रभु राम का नाम लेने  को मजबूर है। मंदिर निर्माण को लेकर भाजपा पर तंज कसने वालों को प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी ने जवाब दे दिया है। अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण आरंभ हो गया है तथा अयोध्या को विश्वस्तरीय शहर के रूप में विकसित किया जा रहा है।  इन्ही सबसे विपक्षी में घबराहट है तथा छद्मभेष धारण कर वे भी भक्ति भाव में आना चाहते हैं। उनका भी स्वागत है।  उन्होंने कहा कि हर पार्टी को अपना प्रचार करने  व नीति तय करने का अधिकार है। चुनाव आते ही  जाति विशेष के प्रति उनका जो अनुराग उत्पन्न होता हैं वह  चुनाव खत्म होते ही चला जाता है। यह अनुराग  हमेशा ही बना  रहे तो बेहतर होगा।

नकल विहीन परीक्षा  कराना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता

– डा शर्मा ने  अयोध्या दौरे के दौरान राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के कुलपति एवं   कुलसचिव  अयोध्या के जिलाधिकारी एसएसपी  संयुक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा जिला विद्यालय निरीक्षक  उच्च  शिक्षा विभाग के अधिकारियों  के साथ बैठक कर  वर्तमान में  चल रही विश्वविद्यालय परीक्षाओं  के बारे में जानकारी प्राप्त की । समीक्षा बैठक में  उन्होंने कहा कि  परीक्षा के दौरान सुरक्षा की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित  की जानी चाहिए। परीक्षाओं को इस प्रकार सम्पन्न कराया जाय कि सुरक्षा व्यवस्था से सम्बन्धित कोई भी शिकायत न आने पाये।  नकल विहीन परीक्षा  कराना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र  पर कोविड 19  गाइडलाइन का हर हालत में अनुपालन  कराया जाय।

इसे भी पढ़े  ट्रक ने सड़क पर गिरे दो लोगों को रौंदा, मौत

उप मुख्यमंत्री  ने  निर्देशित किया कि जिला प्रशासन के साथ समन्वय बनाकर आगामी बी0एड0 परीक्षा    सफलतापूर्वक सम्पन्न कराई जाए।  बी0एड0 परीक्षा के दौरान प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट एवं पुलिस की पर्याप्त तैनाती की  जानी चाहिये। कोविड 19 के  गाइडलाइन का हर हालत में अनुपालन कराने  के साथ ही  परीक्षा केन्द्रों के पास मेडिकल टीम एवं एम्बुलेंस की व्यवस्था भी किए जाने के निर्देश दिये। उन्होंने परीक्षा केन्द्रों की सूची एवं कापी कलेक्शन केन्द्रों की सूची जिला प्रशासन को उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए हैं।  उपमुख्यमंत्री ने अयोध्या भ्रमण के दौरान  पंचमुखी महादेव मंदिर , पंचमुखी  हनुमान मंदिर , ऐतिहासिक राम जानकी मंदिरों के दर्शन एवं गुप्तार घाट की अभ्यर्थना करने के साथ ही  गुप्तार घाट पर चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण भी किया।

उन्होंने जनप्रतिनिधियों के साथ भी बैठक की । इस बैठक में विधायक राम चन्द्र यादव, विधायक  वेद प्रकाश गुप्ता , विधायक   इन्द्र प्रताप तिवारी  , महापौर ऋषिकेश उपाध्याय , जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रोली सिंह जिलाध्यक्ष  संजीव सिंह ,  महानगर अध्यक्ष  अभिषेक मिश्र आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Advertisements

Comments are closed.