in

गन्ना समिति गनौली में भ्रष्टाचार की खुली पोल

पैसे लेकर पर्ची देने का किसानों ने लगाया आरोप

रुदौली । गन्ना समिति गनौली में भ्रष्टाचार चरम पर है।एक तरफ गन्ना किसान गन्ना पर्ची के लिये तरस रहे है और समिति का चक्कर लगा रहे हैं।दूसरी तरफ गन्ना माफिया समिति के कर्मचारियों से साठगांठ करके पैसे लेकर पर्ची जारी कर रहे हैं।बुधवार को करीब दो दर्जन गन्ना किसान गन्ना समिति पहुँच कर हंगामा किया और गन्ना समिति के कर्मचारियों पर पैसे लेकर गन्ना माफियाओं को पर्ची सप्लाई करने का आरोप लगाया।ग्राम संडवा के गन्ना किसान मुजफ्फर हसन खाँ, नबेद अहमद खाँ रमेश यादव,परवेज खाँ, माताफेर आदि किसानों ने बताया कि मिल द्वारा जारी किये गये कैलेंडर में सातवें पक्ष में पर्ची निकल रही है लेकिन अभी तक पर्ची नही दी गयी।जबकि ग्राम संडवा में एक गन्ना किसान के आठवें पक्ष की पर्ची कथित तौर पर पैसे देकर निकाल दी गयी।समिति के कर्मचारियों द्वारा की गयी इस हरकत की जब किसानों आज शिकायत की तो वहाँ बैठे समिति के अधिकारी भी हैरत में पड़ गए ।जियाउल हसन खाँ ने बताया कि मवई गन्ना क्रय केंद्र की मेरे कैलेंडर में आठवें पक्ष के पहले कालम में पर्ची थी जो अभी तक नही निकली जबकि 4535ध्21 नम्बर की पर्ची जिसका नम्बर 51054898 ,26 मार्च को आठवें पक्ष की तीसरे कालम की तथा 51055969,नम्बर की पर्ची 28 मार्च को आठवें पक्ष की नवे कालम और 51056375 नम्बर की पर्ची 29 मार्च को आठवें पक्ष की 15 वें कालम की जारी की गयी है।इस सम्बन्ध में जब किसानों ने बुधवार को गन्ना समिति द्वारा मनमानी तौर से जारी की गयी गन्ना पर्ची का प्रमाण सहित शिकायत की तो उन्होंने इसे गम्भीर चूक माना।इस सम्बन्ध में गन्ना सचिव दीपक वर्मा ने बताया कि इस मामले की तत्काल जांच की जा रही है इस मामले में जो भी दोषी पाया जायेगा उसके विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी।

What do you think?

Written by Next Khabar Team

पीड़ित कृषक ने जोतवा दी गेहूं की खड़ी फसल

वैज्ञानिक परम्परा को सदियों से संजोये हुए है भारत