जयंती की पूर्व संध्या पर मुंशी प्रेमचन्द को किया नमन

फैजाबाद। हिन्दी और उर्दू साहित्य जगत के महानतम लेखको मे से एक मुंशी प्रेमचन्द की 138 वीं जयंती की पूर्व संध्या पर भाजपा कार्यकर्ताओ ने लालालाजपतराय कालोनी के परिसर में उनके चित्र पर माल्यार्पण करके उन्हेें याद करते हुए उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए भाजपा पूर्व नगर अध्यक्ष दिनेश जायसवाल ने कहा कि उपन्यास के क्षेत्र मे उनके योगदान को देखते हुए बंगाल के विख्यात उपन्यासकार शरतचन्द्र चट्टोपाध्याय ने उन्हे उपन्यास सम्राट की संज्ञा दी थी। उन्होने हिन्दी कहानी और उपन्यास की एक ऐसी परम्परा का विकास किया जिसने पूरी सदी के साहित्य का मार्ग दर्शन किया, और उनका लेखन हिन्दी साहित्य की एक ऐसी विरासत है जिसके बिना हिन्दी के विकास का अध्ययन अधूरा होगा। कार्यक्रम का संचालन करते हुए भाजपा नगर उपाध्यक्ष व अधिवक्ता राजीव कुमार शुक्ला ने कहा कि वे एक संवेदनशील लेखक, कुशल वक्ता तथा विद्वान सम्पादक थे। उनका जन्म 31 जुलाई 1880 को वाराणसी के लमही गाॅव में हुआ था। ऐसे महान लेखक को शत्-शत् नमन। कार्यकर्म मे प्रमुख वरिष्ठ अधिवक्ता अजय रस्तोगी, भाजपा नेता प्रमोद मौर्या, दिनेश जायसवाल, राजीव शुक्ला, अजय ओझा, विवेक पाण्डेय, पप्पू सूद सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

इसे भी पढ़े  पल-पल निखरे रूप का रामकथा संग्रहालय में हुआ विमोचन

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More