कबीर एकता व सद्भाव के सबसे बड़े प्रतीक: विचार साहेब

0

तीन दिवसीय कबीर महोत्सव का हुआ शुभारम्भ

अयोध्या । कबीर धर्म मन्दिर जियनपुर के संस्थापक महन्थ स्वरूपलीन सद्गुरू रामसूरत साहेब के स्मृति में तीन दिवसीय कबीर महोत्सव/कबीर मेला एवं सत्संग समारोह प्रारम्भ हो गया। इस अवसर पर संत कबीर की निर्वाण स्थलीय मगहर पीठ के आचार्य संत विचार साहेब ने दीप प्रज्जवलन करके कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। उन्होंने समारोह में उपस्थित सन्तों एवं भक्तों की भीड़ को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश और समाज में मानवता, एकता एवं समरसता के स्थापना सबसे ज्यादा आवश्यक एवं महत्वपूर्ण कार्य बन गया है और यह सब कबीर के रास्ते पर ही सम्भव है। कबीर स्वयं एकता एवं सद्भाव के सबसे बड़े प्रतीक है। उन्होंने इन्सान ही नहीं पशु-पक्षियों से भी प्रेम करना सीखाया। आडम्बरों एवं अन्ध विश्वासों को हटाकर कबीर ने धर्म के मूल स्वरूप को उजागर किया जिसनके विचार में निर्जीव पत्थर की मूर्तियों पर जीवन्त फूल-पत्तियों को तोड़कर चढ़ा देना भी हिंसा है। विशिष्ट अतिथि के रूप में अन्र्तराष्ट्रीय कबीर मन्च के अध्यक्ष महन्थ मनमोहन दास ने कहा कि देश में मौजूद सभी समस्याओं एवं चुनौतियों का समाधान कबीर के दर्शन में सहज ही उपलब्ध है। दरगाह, किछौछा, सरीफ के इमाम एवं राष्ट्रीय मुस्लिम मन्च के अध्यक्ष सैय्यद मो0 इरफान ने अपने सम्बोधन में कहा कि देश के हिन्दू और मुसलमान मिलकर ही अपनी मुक्ति और तरक्की का मार्ग प्रशस्त कर सकते है। समारोह के उद्घाटन सत्र को छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष रामचन्दर वर्मा, प्रो0 हरिशरण दास शास्त्री, विचारक स्वदेश कोरी, सन्त रामलखन दास पथित, राजकुमार साहेब, अरविन्द दास शास्त्री, राजसजीवन दास, रामबरन दास, रामसिंह, निहाल साहेब आदि प्रमुख लोगों ने सम्बोधित किया।
कार्यक्रम के अध्यक्षता रायबरेली से आयी कबीर विचार संस्थान के अध्यक्ष सावित्री दीवान ने की और संचालन अयोजन समिति के प्रबन्धक उमाशंकर दास ने किया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में बिरहा गायक रामकुमार निषाद की मण्डली ने रंगा-रंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति किया। वहीं दूसरी ओर गोरखपुर आकाशवाणी केन्द्र के भजन-गायक रामप्रसाद साहेब ने कबीर के भजनों को सुना कर जन समुदाय को मन्त्र-मुग्ध किया। समारोह में सत्यप्रकाश दास, निर्मल कुमार वर्मा, गुरूचरन यादव, जयप्रकाश दास, शील दास, डाॅ0 अजय कुमार सिंह, डाॅ0 अरविन्द कुमार यादव, संदीप यादव, सुरेन्द्र कुमार यादव, विष्णु यादव, पवन पाण्डेय, मुस्लिम मन्च के जिलाध्यक्ष कासिफ शेख चैधरी, राजेश वर्मा, राम अभिलाष वर्मा, श्यामजी वर्मा, अशोक कुमार वर्मा, मुकेश तिवारी, मेला प्रभारी, अमरनाथ वर्मा, अनूप जायसवाल, राहूल पाण्डेय, समीर सोनकर सहित बड़ी संख्या में सन्त-भक्त एवं स्थानीय ग्रामीण मौजूद रहें।

इसे भी पढ़े  चिकित्सक से़ रंगदारी मांगने वाले दो अभियुक्त गिरफ्तार

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

%d bloggers like this: