नवरात्रि की नवमी हवन-पूजन के साथ सकुशल सम्पन्न

0

दुर्गा प्रतिमा विजर्सन के लिए प्रशासन ने कसी कमर

फैजाबाद। नवरात्रि की नवमी सकुशल सम्पन्न हुई। श्रवण नक्षत्र में सभी पूजा स्थलों पर माता जी का स्थल विसर्जन हवनपूजन के साथ आज सम्पन्न होगा। इस्माइलगंज स्थित मोक्षदायिनी दुर्गापूजा समिति, चैक घण्टाघर पर मदन सिंह द्वारा आयोजित भण्डारे के साथ अधिकांश पूजा पंडालो पर भण्डारों का आयोजन है। आज रात से ही जी0आई0सी0 मैदान में प्रतिमाये विसर्जन हेतु एकत्रित हो जायेंगी। कल दिन में 11ः30 बजे गतवर्षों की भाॅति परम्परागत रूप से ढोल नगाड़ों एवं बैण्ड बाजों की धुन पर नाचते, गाते, थिरकते भक्तों की भारी भीड़ के साथ इस वर्ष भी माँ दुर्गा की विशाल भव्य शोभायात्रा सांसद, पूर्व सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, महापौर, सभी राजनैतिक दलो के पदाधिकारियों, समाज के हर तबके के गणमान्य नागरिका,ें केन्द्रीय समिति के संरक्षको की अगुवाई में फतेहगंज, सुभाषनगर, बजाजा, चैक, रिकाबगंज, सिविल लाइन्स, सहादतगंज, हनुमानगढ़ी से विसर्जन के लिये गुप्तारघाट स्थित श्री भगवान जायसवाल घाट (निर्मली कुण्ड) पहुँचकर विसर्जित होगी।
केन्द्रीय समिति के प्रवक्ता डाॅ शैलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि माँ दुर्गा की भव्य शोभायात्रा का कसाबबाड़ा में मुस्लिम समाज, फतेहगंज में सिक्ख समाज, चैक में सभी धर्मांे के प्रतिनिधियों द्वारा तथा रिकाबगंज में सिंधी समाज द्वारा शोभायात्रा का स्वागत पुष्पवर्षा से किया जायेगा। शोभायात्रा में शामिल सम्मानित गणमान्य लोगों द्वारा शुभम् हाट पर केन्द्रीय समिति के संस्थापक श्री भगवान् जायसवाल के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित की जायेगी।

पूरे नगर में शोभायात्रा के स्वागत हेतु भण्डारों का आयोजन किया जायेगा। सिक्ख समाज द्वारा शोभायात्रा के आगे-आगे दो गाड़ियों में हलुआ एंव तहड़ी प्रसाद का वितरण किया जायेगा। केन्द्रीय समिति के अध्यक्ष मनोज जायसवाल, प्रमुख संरक्षक विजय गुप्ता, सहसंयोजक गगन जायसवाल, रामलीला प्रभारी प्रेमनाथ राय, पुलिस प्रमुख जे0एन0 चतुर्वेदी, विद्युत प्रभारी तारकेश्वर शर्मा, केशव बिगुलर, जनार्दन पाण्डेय, सुप्रीत कपूर, रविकान्त आर्य, अशोक कनक, राजेश गौड़, दीपक गौतम, अतुल सिंह, अखिलेश पाठक, पवन निषाद, चन्दन गुप्ता, आलोक शंकर, राजू जायसवाल, रोहिताश्व चन्द्र राजू, रविन्द्र यादव आदि केन्द्रीय समिति के सभी पदाधिकारियों के साथ विसर्जन घाट पर अन्तिम प्रतिमा के विसर्जन तक उपस्थित रहेंगे।

इसे भी पढ़े  इसबार तीन दिन का होगा दीपोत्सव, साढ़े पांच लाख दीपों से जगमगाएगी अयोध्या

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More